फर्रुखाबाद - सीएमओ दफ्तर के पीछे रात के अंधेरे में जलाई गई लाखो की सरकारी दवाये - तहकीकात न्यूज़

आज की बड़ी ख़बर

Wednesday, 17 October 2018

फर्रुखाबाद - सीएमओ दफ्तर के पीछे रात के अंधेरे में जलाई गई लाखो की सरकारी दवाये

रिपोर्ट :- पुनीत मिश्रा 

एनआरएचएम घोटाले की छींटे अभी तक साफ चमक ही रहे थे की फर्रुखाबाद के सीएमओ कार्यालय में एक बार फिर लाखों का दवा घोटाला सामने आया है रात के अंधेरे में लाखों की सरकारी दवाएं और गर्भनिरोधक सीएमओ दफ्तर के कर्मचारियों ने आग के हवाले कर कर दी गई शिकायत होने पर जिलाधिकारी मोनिका रानी में सिटी मजिस्ट्रेट राम अक्षयवर सिंह को मौके पर पहुंचकर 4 बोरों में उपयोग लायक दवाएं कब्जे में लेकर सीज की सिटी मजिस्ट्रेट के जाने के बाद सरकारी दवाओं की होली फिर दूध होकर चलने लगी



देर शाम किसी ने जिलाधिकारी को सूचना दी कि सीएमओ कार्यालय के पीछे सरकारी दवाएं जलाई जा रही है सीएमओ को जानकारी दी गई तो उन्होंने बात हवा में उड़ा दी तब शिकायत जिलाधिकारी तक पहुंची तो डीएम मोनिका रानी ने सिटी मजिस्ट्रेट को जांच के लिए मौके पर भेजा शिकायत सच निकली सिटी मजिस्ट्रेट ने सीएमओ कार्यालय के कई बाबुओ से मदद के लिए कहा पर कोई इसके लिए तैयार नहीं हुआ सिटी मजिस्ट्रेट ने अपने स्टाफ की मदद लेकर किसी तरह 3 गत्ते और एक बोरी में भरवा कर सील कराया सिटी मजिस्ट्रेट के जाने के बाद दबाए फिर एक पुराने कमरे से निकल कर आग के हवाले की जाती रही सबसे बड़ी बात यह है कि आम आदमी तक आशा और एएनएम की लंबी कढ़ी होने के बावजूद परिवार कल्याण की दवाएं भी नहीं बांटी जाती है सिटी मजिस्ट्रेट ने बताया उन्हें अगले वर्ष एक्सपायर होने वाली दवाई भी मिली है जिन्हें कब्जे में ले लिया गया है


सीएमओ दफ्तर के पीछे लाखों की दवाएं और गर्भनिरोधक आग के हवाले कर दी गई यह दवाएं और गर्भनिरोधक लोगों में वितरण के लिए भेजी जाती हैं लेकिन अधिकारियों और कर्मचारियों की नकारात्मक सोच के कारण इन्हें नहीं बांटा जा सका और खामी छिपाने के लिए आ के हवाले सौंप दिया गया

No comments:

Post a Comment