फर्रुखाबाद- बच्चे की मौत से परिजनों का लोहिया अस्पताल में हंगामा - तहकीकात न्यूज़

आज की बड़ी ख़बर

Thursday, 18 October 2018

फर्रुखाबाद- बच्चे की मौत से परिजनों का लोहिया अस्पताल में हंगामा

रिपोर्ट-- पुनीत मिश्रा


फर्रुखाबाद का लोहिया अस्पताल में डाक्टरों की लहपरवाही नई नहीं है आये दिन डाक्टरों की लहपरवाही से किसी न किसी की मौत हो रही है इस प्रकार के मामले आम बात हो गयी है ।तजा मामला कोतवाली फतेहगढ़ के मोहल्ला भोलेपुर विनय कुमार के चार माह के बेटे अक्षत की हालत खराब चल रही थी।



ज्यादा खराब होने पर परिजनों ने आवास विकास के दो तीन प्राइवेट अस्पतालों में उसको दिखाया लेकिन सभी ने भर्ती करने से मना कर दिया।परिजन परेशान होकर बच्चे को लेकर लोहिया अस्पताल इमरजेंसी में पहुंचे जहां पर तैनात डॉक्टर धर्मेंद्र कुमार ने उसको भर्ती कर लिया और बच्चो के डॉक्टर एसपी सिंह भी आ गए उन्होंने बच्चे का इलाज शुरु कर दिया लेकिन उसको बाहर के लिए रिफर करने को कहा लेकिन अभी उसका इलाज चल ही रहा था कि उसकी मौत हो गई।बच्चे की मौत के बाद परिजनों ने डॉक्टर पर आरोप लगाया कि बच्चे को निमोनिया थी तो उसके बोतल क्यो लगाई उसी बजह से बच्चे की मौत हो गई।



डॉक्टर बवाल बढ़ता देख अस्पताल ले बाहर जाकर सीएमएस को पूरे मामले की जानकारी दी तभी परिजनों ने डायल 100 पर घटना की सूचना दे दी।फिर क्या था परिजनों ने पुलिस के सामने भी डाक्टरो की लापरवाही का आरोप लगाकर हंगामा काटा।



आवास विकास चौकी प्रभारी ज्ञानेश्वर सिंह ने परिजनों से कहा कि तहरीर दो मुकदमा दर्ज कर लिया जायेगा उसकी साथ बच्चे के शव का पोस्टमार्टम कराया जायेगा यदि डॉक्टर की लापरवाही से मौत हुई है तो उसके खिलाफ कार्यवाही की जायेगी इस बात को लेकर परिजन तैयार दिखाई नही दे रहे थे।डॉक्टर धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि परिजन बच्चे को लेकर देर शाम को अस्पताल आये हुए थे।उसकी हालत पहले से गम्भीर थी।लेकिन परिजनों के कहने पर इसको भर्ती किया गया और बच्चो के डॉक्टर से उसका इलाज शुरू करा दिया गया।उसी दौरान बच्चे की मौत हो गई लेकिन परिजन पहले किसी प्राइवेट अस्पताल से लेकर यहां पहुंचे थे।जब वह बवाल करने लगे तो हमने अपने अधिकारियों को घटना से अबगत करा दिया है।

No comments:

Post a Comment