कन्नौज में दबंग व्यापारी के उत्पीड़न से परेशान एक किसान ने फांसी लगाकर आत्महत्या - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Thursday, 13 December 2018

कन्नौज में दबंग व्यापारी के उत्पीड़न से परेशान एक किसान ने फांसी लगाकर आत्महत्या



रिपोर्ट -मोबीन मंसुरी 
कन्नौज में दबंग व्यापारी के उत्पीड़न से परेशान एक किसान ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। व्यापारी ने किसान को शराब पिलाकर जबरन उसका आलू बाजार के रेट से आधे दाम पर खरीद लिया था। मृतक के भाई ने आरोपी दबंग के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही की मांग की है। कन्नौज में आलू किसान द्वारा आत्महत्या किये जाने का तीन दिन में यह दूसरा मामला है। इससे पहले 9 दिसम्बर को यहां एक आलू किसान ने कर्ज और आलू न बिकने से ऊबकर आत्महत्या कर ली थी।


जमीन पर पड़ा यह शव कन्नौज के गुरसहायगंज कोतवाली क्षेत्र के घासीपुरवा गांव के किसान ब्रजेश यादव का है। ब्रजेश के भाई का आरोप है कि 2 दिन पहले वह कच्ची फसल का अपना 73 पैकेट आलू लेकर बाजार बेचने के लिये निकला था। रास्ते मे दूसरे गांव के दबंग व्यापारी नन्हे पहलवान ने उसे जबरन रोक लिया और शराब पिलाकर बाजार से आधे रेट पर आलू खरीद लिया। शराब का नशा उतरने के बाद ब्रजेश को जब घाटे का पता चला तो उसने और रुपये मांगे। जिस पर दबंग ने उसे धमकाकर भगा दिया। 2 दिन दौड़ाभागी के बाद भी जब दबंग व्यापारी ने रुपये नही दिए तो परेशान होकर ब्रजेश ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

सत्यपाल यादव(मृतक का परिजन)

गुरसहयगंज कोतवाली क्षेत्र के ही सियरमऊ गांव के आलू किसान सुभाष पाल ने भी 9 दिसम्बर को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। उसका दो कोल्ड स्टोरेज में डेढ़ हजार पैकेट आलू रखा था । पुराने आलू के दाम जमीन पर आ जाने से वह परेशान चल रहा था । परिजनों के अनुसार दो सरकारी बैंक से भी सुभाष ने सात लाख रुपये लोन ले रखा था । कोल्ड स्टोरेज और बैंक से तगादा आने लगा था । लोन और फसल के दाम गिर जाने से उसने गांव के पास बाग में फांसी लगा ली थी।

No comments:

Post a Comment