उन्नाव - - गठबंधन डर और भय के कारण हुआ , अपने सब स्वार्थ साधने के लिए हुआ - अरुण सिंह - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Sunday, 20 January 2019

उन्नाव - - गठबंधन डर और भय के कारण हुआ , अपने सब स्वार्थ साधने के लिए हुआ - अरुण सिंह

रिपोर्ट - विशाल सिंह

आज लखनऊ से कानपुर जाते समय भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह का उन्नाव के लखनऊ कानपूर बाईपास में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओ की अगुवाई में जोरदार स्वागत हुआ।कार्यकर्ताओ में आगामी लोकसभा चुना को लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिया और उनका जमकर उत्साहवर्धन किया| 


इसके बाद वो पत्रकारों से रूबरू होकर उनके सवालो के जवाब दिए| उनसे सपा और बसपा गठबंधन को लेकर जब सवाल पूछा गया तो उन्होंने बताया की ये डर और भय का गठबंधन है और ऐसे गठबंधन में कभी भी सफल नही होते लेकिन जब राम मंदिर के निर्माण में हो रही देरी के बारे पूछा तो तो उन्होंने न्यायपालिका और संवैधानिक कानून का रटा रटाया जवाब दे डाला और ये भी कहा की प्रतिदिन हम लोग कोर्ट से आग्रह कर रहे है कि इसकी रोज सुनवाई करे लेकिन कोंग्रेस और समाजवादी पार्टी इन सब को बताना चाहिए इसनका स्टैंड क्या है यह क्यूँ बोलते है कि 2019 के बाद सुनवाई होना चाहिए|  

यह एक ढकोसला है और यह गठबंधन डर और भय के कारण हुआ है अपने सब स्वार्थ साधने के लिए हुआ है और ऐसे गठबंधन में कभी भी सफल नही होते भरतीय जनता पार्टी की सरकार बनेगी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार पुनः 2019 में देश के प्रधानमंत्री बनेंगे। देखो हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष जी ने भी यही कहा है कि जल्द से जल्द प्रभु राम मंदिर बनना चाहिए हम लोग भी चाहते है कि प्रभु राम का  जल्दी मंदिर बने और न्यायपालिका अपना जल्दी निर्णय दे और जो संवैधानिक दायरे के अंतर्गत जो भी पोसिबल होगा मंदिर तो बनेगा और शीघ्र बनेगा राम मंदिर कभी भी भारतीय जनता पार्टी का चुनावी मुद्दा नही रहा है कभी भी नही रहा है यह आस्था का मुद्दा है आस्था का प्रश्न है प्रभु राम हम लोगों के दिल मे बसते है 24घण्टे हम लोग सोचते है कि प्रभू राम का मंदिर शीघ्र बनना चाहिये । देखिए हमने कहा न कि प्रभु राम का मंदिर शीघ्र बनना चाहिए राष्ट्रीय अध्यक्ष जी ने कहा और कोर्ट में अभी केस चल रहा है प्रतिदिन हम लोग कोर्ट से आग्रह कर रहे है कि इसकी डेली की डेली सुनवाई करना चाहिए लेकिन कांग्रेस समाजवादी पार्टी इन सब को बताना चाहिए इनका स्टैंड क्या है यह क्यूँ बोलते है कि 2019 के बाद सुनवाई होना चाहिए।

No comments:

Post a Comment