सुल्तानपुर से कांग्रेस प्रत्याशी होंगे संजय सिंह, 2014 में पत्नी की जमानत तक नहीं बचा पाए थे - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 15 March 2019

सुल्तानपुर से कांग्रेस प्रत्याशी होंगे संजय सिंह, 2014 में पत्नी की जमानत तक नहीं बचा पाए थे

 रिपोर्ट -  रीतू श्रीवास्तव

उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर लोकसभा सीट से कांग्रेस ने 2014 में अपनी धर्मपत्नी की जमानत न बचा पाने वाले राज्यसभा सांसद डॉ. संजय सिंह को उम्मीदवार घोषित किया है। ऐसे में बड़ा सवाल ये है क्या कांग्रेस ने सुल्तानपुर से बीजेपी और गठबंधन के प्रत्याशी के लिए अपना डमी उम्मीदवार लड़ाया है। बता दें कि सुल्तानपुर सीट से कांग्रेस ने तो पत्ता खोल दिया है, लेकिन बीजेपी और गठबंधन की ओर से अभी प्रत्याशियों की घोषणा होना बाकी है, जबकि शिवपाल यादव की पार्टी से जिला पंचायत सदस्य कमला यादव को हरी झंडी मिल चुकी है। 
 


2014 चुनाव का हाल

अगर 2014 के चुनाव की बात करें तो इस चुनाव में बीजेपी ने वर्तमान सांसद वरुण गांधी को मैदान में उतारा था। वहीं, बीएसपी से पवन पांडेय और एसपी से शकील अहमद मैदान में थे। कांग्रेस ने अपने मौजूदा प्रत्याशी डॉ. संजय सिंह की पत्नी एवं पूर्व मंत्री रानी अमिता सिंह को टिकट दिया था। चुनाव रुझान की बात करें तो जहां वरुण गांधी को 4 लाख 10 हजार 348 वोट मिले थे वहीं दूसरे स्थान पर रहे पवन पांडेय को 2 लाख 31 हजार 446 और शकील अहमद को 2 लाख 28 हजार 144 वोट मिले थे। कांग्रेस प्रत्याशी रानी अमिता सिंह महज 41 हजार 983 वोट ही मिले। जबकि स्वयं वर्तमान में कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. संजय सिंह ने प्रचार की कमान संभाल रखा था। ऐसे में बड़ा सवाल ये है के 2014 के चुनावी रुझान के बाद आखिर किस आधार पर कांग्रेस ने इस सीट पर प्रत्याशी चयन में गफलत बरती?



वरुण गांधी ने दिलों में बनाई जगह

बात अगर वरुण गांधी की किया जाए तो उन्होंने अपने संसदीय क्षेत्र में विकास का जाल बिछवाया। सोलर लाइटें और इंडिया मार्का हैंडपम्प के साथ निषादों, केवटों और मल्लाओं के रोजगार के लिए बाध मंडी का निर्माण करवाया। अपनी निधि से चाइल्ड हॉस्पिटल, न्यू इमरजेंसी और अपने वेतन से गरीबों के लिए आवास बनवाकर जनता के दिलों में जगह बनाई।
ऐसा है सुल्तानपुर सीट पर जातीय समीकरण
मुसलमान- करीब चार लाख
दलित- करीब 3.50 लाख
ब्राह्मण- करीब तीन लाख
यादव- करीब दो लाख
वैश्य- करीब दो लाख
कुर्मी- करीब डेढ़ लाख
क्षत्रिय- करीब सवा लाख
निषाद- करीब एक लाख
कायस्थ- एक लाख
मौर्य- 70 हजार
2014 लोकसभा चुनाव के आधार पर कुल मतदाता
कुल मतदाता- 18,11,772
पुरुष- 9,47,621
महिला- 8,64,061
थर्ड जेंडर- 90

No comments:

Post a Comment