बस्ती जनपद दुबौलिया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर 2 दिनों से तालाबंद जिम्मेदार कौन - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 15 June 2019

बस्ती जनपद दुबौलिया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर 2 दिनों से तालाबंद जिम्मेदार कौन


रिपोर्ट - राजित राम यादव

स्वास्थ्य मंत्री प्रभारी के जिले बस्ती में स्वास्थ्य सुविधाओं का बुरा हाल है। जिले के आला अधिकारी भले ही बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं का दावा करते हैं। लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाओं स्थित काफी बदहाल है। बस्ती जिले एक ऐसा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भी है जिस पर पिछले 2 दिनों से ताला लटक रहा है। लेकिन अभी तक इस पूरे मामले पर किसी जिम्मेदार ने जानकारी लेने तक की जहमत नहीं उठाई। आपको बता दें कि दुबौलिया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर पिछले 2 दिनों से ताला लटक रहा है। अपने इलाज के लिए आ रहे ग्रामीण हारकर झोलाछाप डॉक्टरों से इलाज कराने को मजबूर हैं। वही इस पूरे मामले पर कोई भी जिम्मेदार कुछ भी बोलने को तैयार नही है। 

 
बस्ती जिले में स्वास्थ्य व्यवस्था बदहाल ग्रामीण मजबूर हैं झोलाछाप डॉक्टर से इलाज कराने लेकिन जिम्मेदार जरा सा भी ध्यान नहीं दे रहे स्वास्थ्य विभाग पर जबकि यह जिला स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ सिंह प्रभारी हैं उनके जिले में स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों को ठेंगा दिखा रहे हैं उनके आदेश को हवा-हवाई साबित कर रहे हैं फिर भी नहीं हो रही है कोई कार्रवाई ग्रामीण इलाज के लिए दूरदराज झोलाछाप डॉक्टरों से इलाज कराते हैं जिसका खामियाजा उन को भुगतना पड़ता है सरकारी स्वास्थ्य सेवाएं ठप पड़ी हैं वही जिम्मेदार मौन हैं भीषण गर्मी के कारण लोगों में बीमारियां पैदा हो रही हैं डायरिया कालरा जैसे तमाम घातक बीमारियों का आगमन हो रहा है वहीं स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी कुंभकरण की नींद में सो रहे हैं प्राथमिक स्वास्थ्य पर ताला लटक रहा है ग्रामीण मायूस होकर लौट रहे हैं

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।