गरीब कुपोषित बच्चों की मौत हो रही बोले ओम प्रकाश राजभर - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 22 June 2019

गरीब कुपोषित बच्चों की मौत हो रही बोले ओम प्रकाश राजभर

तहकीकात न्यूज़ डेस्क लखनऊ 

बिहार के मुजफ्फरपुर में दिमाग़ी बुख़ार से गरीब कुपोषित बच्चों की मौत हो रही है,तमिलनाडु में पानी को लेकर हाहाकार मचा हुआ है देश मे बड़ा कृषि संकट है,शिक्षा का स्तर गिरता जा रहा है और बेरोजगारी का आलम यह है कि 45 साल में बेरोजगारी अपने उच्चतम स्तर पर है


आज जरूरत है बुनियादी सुविधाओं को मुहैया कराने की,देश मे डॉक्टर की कमी,अच्छे अस्पताल की कमी,अस्पतालों में दवाइयां नहीं गरीब पैसो के आभाव में अपनी जान गवा दे रहा है,सरकार का ध्यान इन सब मुद्दों पर नही है। बल्कि सरकार का ध्यान जिन राज्यो में अगले वर्ष चुनाव होना है वही पर लग गया है। जनता त्राहि त्राहि कर रही है और भोज कराने में व्यस्त यही बचा है,संवेदनशीलता का ज्ञान देने वाले मा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी अभी तक क्यो चुप है।

उत्तर प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने प्रधानमंत्री से अपनी इच्छा जाहिर करते हुए कहा एक राष्ट्र एक चुनाव के नारे से कही उससे भी बेहतर होगा एक राष्ट्र एक शिक्षा  के लिए सभी विपक्षी पार्टी के अध्यक्षों को बुलाकर देश में एक शिक्षा प्रणाली लागू कराने के लिए जोर दे ताकि गरीब व अमीर को एक सामान शिक्षा मिल सके।








































आज जरूरत है बुनियादी सुविधाओं को मुहैया कराने की,देश मे डॉक्टर की कमी,अच्छे अस्पताल की कमी,अस्पतालों में दवाइयां नहीं गरीब पैसो के आभाव में अपनी जान गवा दे रहा है,सरकार का ध्यान इन सब मुद्दों पर नही है। बल्कि सरकार का ध्यान जिन राज्यो में अगले वर्ष चुनाव होना है वही पर लग गया है। जनता त्राहि त्राहि कर रही है और भोज कराने में व्यस्त यही बचा है,संवेदनशीलता का ज्ञान देने वाले मा.
 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी अभी तक क्यो चुप है।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।