कानपुर - बकरा व्यापारी से हुई 19 लाख की लूट का पुलिस ने किया खुलासा - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Tuesday, 16 July 2019

कानपुर - बकरा व्यापारी से हुई 19 लाख की लूट का पुलिस ने किया खुलासा

रिपोर्ट - अभिलाष

 जनपद के बिठूर थानाक्षेत्र में मिर्च डालकर बकरा व्यापारी ने 19 लाख की लूट का पर्दाफाश पुलिस ने कर दिया। हालांकि घटना में पीड़ित के रिश्तेदार मुख्य अभियुक्त ममेरे भाई समेत छह लोग अभी भी फरार है और भाड़े पर वारदात करने वाला एक अभियुक्त पकड़ा गया है। उसके कब्जे से तमंचा व वारदात के बाद बटवारे में मिली सवा तीन लाख की रकम बरामद कर ली गई है। पुलिस की कई टीमें फरार लूटकांड में शामिल सभी अभियुक्तों की तलाश में जुट हुई हैं।वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अनंत देव ने सोमवार को बिठूर इलाके में आठ जुलाई को हुई 19 लाख की लूटकांड का खुलासा किया। उन्होंने पुलिस लाइन में पत्रकार वार्ता में बताया कि चौबेपुर में रहने वाले बकरा व्यापारी मो. मिराज बीते दिनों कानपुर में तगादा वसूल कर 19 लाख 20700 हजार रुपये की रकम लेकर स्कूटी से घर जा रहा था। बिठूर के मंधना स्थित जीटी रोड पर रमैया ढाबा के पास बाइक सवार ने उन्हें ओवरटेक कर आंखों में मिर्च डाल झोंककर स्कूटी की डिग्गी से 19 लाख से अधिक रुपये से भरा बैग लूट लिया और फरार हो गये। लूटकांड की जानकारी पर पुलिस की टीमों ने जांच की और लुटेरों की तलाश में पांच टीमों को लगाया गया।जांच में लूट की घटना में बकरा व्यापारी के रिश्तेदारी में लगने वाले भांजे व ममेरे भाई की भूमिका का पता चला। जिस पर गहनता से छानबीन में ममेरे भाई आलम व इदरीश उर्फ शानू मुंशी की भूमिका के बारे में पता चला। दोनों की लोकेशन व कॉल डिटेल पता की गई। जिसमें घटना के दौरान दोनों के बीच व चार-पांच अन्य लोगों से कई बार बातचीत की जानकारी हुई।

 
जिस पर पुलिस की टीमों ने सभी का पता किया तो वह फरार थे।

टीमों ने लगातार दबिश दे रही थी, इस बीच सोमवार को भोर के समय लूटकांड में शामिल भाड़े के लुटेरे रेलबाजार के मीरपुर निवासी अजय के बारे में जानकारी हुई पुलिस की टीमों ने उसे भागते समय घेराबंदी कर लिया। खुद को घिरता देख बदमाश ने पुलिस टीम पर फायरिंग की, लेकिन जवाबी कार्रवाई के दौरान पुलिस ने अभियुक्त को धर दबोचा। पुलिस को उसके कब्जे से लूट में आई रकम के बटवारें में मिले 3.23 लाख की रकम के साथ तमंचा बरामद हुआ है।एसएसपी ने बताया कि लूट की घटना को लेकर गिरफ्तार अभियुक्त ने पूछताछ में बताया कि वारदात का मास्टर माइंड पीड़ित बकरा व्यापारी का रिश्तेदार व ममेरे भाई आलम व शानू ने रची थी।इस घटना में उसने अपने साथ भाड़े के चार लोगों को योजना के तहत वारदात अंजाम देने के लिए तैयार किया। साजिश के तहत उन्होंने गिरफ्तार कार चालक अजय को मिलाया। घटना के दौरान आलम व शानू ने तगादे में भारी रकम मिलने की बात भाड़े के लुटेरों को दी। जिसके बाद उन्होंने वारदात अंजाम दी। यह सभी छह अभियुक्त लूट की रकम का बटवारा कर फरार हैं और अजय पकड़ा गया है।एसएसपी ने बताया कि ममेरे भाईयों में राजू भी बकरों का व्यापार करता था, जिसमें उसे नुकसान हुआ था। पीड़ित मिराज को लगातार हो रहे मुनाफे को लेकर उसकी उससे आठ माह पूर्व लड़ाई हुई थी। जिस पर उसने उसे बर्बाद करने की बात कही थी। पुलिस ने फरार अभियुक्तों पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया है।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।