बसपा प्रदेश की 13 सीटों पर होने वाले उपचनुव के लिए जल्दी ही प्रत्याशियों का एलान - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Monday, 19 August 2019

बसपा प्रदेश की 13 सीटों पर होने वाले उपचनुव के लिए जल्दी ही प्रत्याशियों का एलान



बसपा प्रदेश की 13 सीटों पर होने वाले उपचनुव के लिए जल्दी ही प्रत्याशियों का एलान कर सकती है। जोन इंचार्जों ने अपने-अपने क्षेत्र की सीटों के लिए प्रत्याशियों का पैनल पार्टी नेतृत्व को भेज दिया है। कई सीटों पर संभावित प्रत्याशियों को प्रभारी के रूप में तयारी करने का निर्देश दिया जा चुका है।


पार्टी सूत्रों ने बताया कि 13 में से 11 सीटों के संभावित प्रत्याशियों के नाम लगभग फाइनल हैं। कानपुर कैंट व लखनऊ कैंट सीट पर अंतिम निर्णय बाकी है। मानिकपुर से राज नारायण निराला, हमीरपुर में नौशाद अली, जैतपुर बाराबंकी से अखिलेश अंबेडकर व प्रतापगढ़ से पिछले लोकसभा सीट के प्रत्याशी रहे अशोक तिवारी को प्रभारी के रूप में तैयारी के लिए कहा जा चुका है। कानपुर कैंट से ब्राह्मण, बाल्मीकि या बघेल समाज के दावेदारों में से किसी का नाम फाइनल हो सकता है। टुंडला सीट से बघेल समाज का प्रत्याशी उतारे जाने की संभावना जताई जा रही है। लखनऊ कैंट सीट से कई नामों पर विचार हो रहा है।

बताया जा रहा है कि बसपा सुप्रीमो मायावती जल्दी ही जोन इंचार्जों से बात कर प्रत्याशियों के नाम का एलान कर सकती हैं। मंगलवार को जोन इंचार्जों के साथ बैठक भी हो सकती है। सभी सीटों के प्रत्याशियों का नाम एक साथ जारी किए जाने की योजना है।

मायावती दिल्ली से लखनऊ लौटीं

बसपा सुप्रीमो मायावती दिल्ली से लखनऊ लौट आई हैं। कुछ दिन पहले ही उन्होंने नए प्रदेश अध्यक्ष के रूप में पूर्व सांसद मुनकाद अली के नाम का एलान कर संगठन को नए सिरे से तैयार करने की शुरुआत की थी। बताया जा रहा है कि वह जल्दी ही बूथ से विधानसभा स्तर तक नए सिरे से बनाए जा रहे संगठन व भाईचारा कमेटियों के गठन से जुड़े कार्यों की समीक्षा करेंगी।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।