कोरोना संक्रमित हर व्यक्ति जमाती नहीं - मो० शमीम - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

Tahkikat News App

आज की बड़ी ख़बर

Thursday, 16 April 2020

कोरोना संक्रमित हर व्यक्ति जमाती नहीं - मो० शमीम

 लखनऊ ब्यूरो


लखनऊ
, आज दिनांक 16.04.2020 दिन गुरुवार को नागरिक एकता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मो० शमीम ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि आज देश 'कोरोना महामारी' के संकट से गुजर रहा है लेकिन कुछ लोग सोशल मीडीया तथा कुछ मीडिया चैनल खबरों को मिर्च मसाला लगाकर जनता को परोस रहे हैं जिससे लोग गुमराह हो रहे हैं, जबकि कुछ अखबार ने लिखा भीकि कोरोना महामारी किसी समुदाय व धर्म की नहीं है इसका हम सबको मिलकर मुक़ाबला करना है, लेकिन वहीं कुछ सांप्रदायिक मानसिकता के लोग कोरोना संक्रमित किसी भी व्यक्ति को जमाती बना दे रहे हैं | 14 अप्रैल को बांद्रा स्टेशन पर एकत्र हजारों की भीड़ को एक चैनल ने मस्जिद से जोड़ दिया ठीक उसी तरह चैनल भी किसी भी संक्रमित व्यक्ति को जमात से जोड़ दे रहे हैं जो सही नहीं है, ऐसे लोगों और चैनलों पर केंद्र व प्रदेश सरकार को कड़े कदम उठाने चाहिए |

15 अप्रैल को मुरादाबाद की घटना हो या एम्स के नर्श के साथ घटित घटना हो अथवा सब्जी वाले ठेले वालों को मारने या उनसे आधार कार्ड मांगने की घटना हो, हम इन सभी घटनाओं की कड़ी निंदा करते हैं तथा ऐसे देश विरोधी कार्य करने वालों के लिए कठोर सजा की मांग करते हैं लेकिन यह भी नहीं भूलना चाहिए की ये सभी घटनाएँ अफवाहों व गलत सूचनाओं के दुष्परिणाम हैं, जिसे रोकना चाहिए | 14 अप्रैल को संयुक्त राष्ट्र संघ (यूनेस्को) ने चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि गलत सूचनाएँ इस हद तक फैल रहीं हैं कि कुछ समालोचक इसे 'गलत सूचनाओं की महामारी' तक कहने लगे हैं, उन्होने कहा कि कोविड-19 को लेकर जारी हो रही गलत सूचनाओं/समाचारों के लिए सभी सरकारों को सख्त कदम उठाने चाहिए, मो० शमीम ने लोगों से अनुरोध किया कि लोग इस लड़ाई को देश हित में राष्ट्रीयता की भावना से लड़ें न कि हिन्दू-मुसलमान धर्म मजहब व पंथ के नाम पर |  

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।