कानपुर: एकमात्र विद्यालय में चल रही ऑनलाइन कक्षाएं - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

Tahkikat News App

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 17 April 2020

कानपुर: एकमात्र विद्यालय में चल रही ऑनलाइन कक्षाएं


संवाददाता:अरविन्द शर्मा

 कानपुर देहात। कस्बा रुरा  मैं नहर पुल अम्बरपुर रोड पर स्थित इन्फेंट पब्लिक स्कूल  कस्बा रुरा क्षेत्र का एकमात्र दिल्ली बोर्ड से मान्यता प्राप्त विद्यालय है जो रूरा में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने के लक्ष को लेकर कार्य कर रहा है। आपको बता दें कि जहां पूरा देश आज कुरौना बरस महामारी के प्रकोप से घरों में कैद है देश के सभी संस्थान विद्यालय कार्यालय कंपनियां सभी लॉक डाउन के चलते हैं बंद करा दिए गए हैं। ऐसी घड़ी में बच्चों की शिक्षा को लेकर लोगों के मन में बहुत ही निराशा है कि किस प्रकार से बच्चों की पढ़ाई प्रारंभ की जाए जिससे उनका साल व समय बर्बाद ना हो। इन सभी समस्याओं को देखते हुए कस्बा रुरा के इन्फेंट पब्लिक स्कूल में ऑनलाइन कक्षाओं का संचालन विगत 28 मार्च से प्रारंभ कर दिया गया है। जिससे स्कूल में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को घर बैठे ही पढ़ाई कराई जा रही है। लॉग डाउन के चलते इन्फेंट पब्लिक स्कूल के प्रबंधक कमेटी द्वारा सभी कक्षाओं की पढ़ाई ऑनलाइन कराई जा रही है जिससे विद्यार्थियों का साल खराब ना हो और उन्हें लगातार शिक्षा मिलती रहे हैं।इन्फेंट  पब्लिक सोनू त्रिवेदी द्वारा बताया गया कि स्कूल ने शिक्षा की गुणवत्ता को देखते हुए हैं कमेटी ने ऑनलाइन कक्षाएं चलाने की तैयारी कर बच्चों को ऑनलाइन शिक्षा दिलाई जा रही है जिससे इस लॉक डाउन के चलते हैं वह घर में रहकर अपनी पढ़ाई पूरी कर सकें।इन्फेंट पब्लिक स्कूल के डाइरेक्टर ने बताया कि इस कोरोना महामारी की चलते सभी क्षेत्र व देश वासियों से मेरा यही निवेदन है कि सभी अपने अपने घरों में रहे समय समय पर अपने हाथों को साबुन से अच्छी तरह धोये व घर से बाहर यदि किसी आवश्यक कार्य से निकले तो चेहरे में मास्क का जरूर प्रयोग करे। उन्होंने कहा किसी और के लिए मत करो।  अपने आप के लिए ये करो।  कृपया घर पर रहें और इस लड़ाई को जीतें।  कोरोना वायरस को हराएं और अपने लोगों की रक्षा करें। प्रत्येक देशवासी का यही कर्तव्य कि वह अपने देश  अपने समाज अपने परिवार व स्वयं की रक्षा करें।इस कोरोना वायरस महामारी से बचने के लिए हमें लॉक डाउन का पालन करना है सोशल डिस्टेंस में रहना है तथा अपने चेहरे में मांस का प्रयोग कर घरों में सुरक्षित रहना है।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।