ये अमेठी है,सड़क पुल टूटा, सफर बाधित, प्रशासन बेखबर - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Thursday, 16 July 2020

ये अमेठी है,सड़क पुल टूटा, सफर बाधित, प्रशासन बेखबर

मयंक पाण्डेय अमेठी

 ये अमेठी है,सड़क  पुल टूटा, सफर बाधित, प्रशासन बेखबर 

केन्द्रीय सड़क निर्माण निधि योजना में बजट की लीपापोती

 अमेठी। लोहिया नगर कालिकन बिशेषरगंज-सैठा मार्ग पर केन्द्रीय सड़क निर्माण निधि से बजट दिया गया। जिस पर सुदृढ़ीकरण, चौड़ीकरण के लिए बजट का स्टीमेट लोक निर्माण विभाग प्रान्तीय खण्ड अमेठी के अभियन्ताओ ने भारत सरकार को भेजा गया। बजट मिलने के बाद काम भी किया गया। अभियन्ताओ की चूक आज सड़क मार्ग पर लगा ग्रहण लोगों के गले के नीचे उतर नहीं रहा है।

 पहली बात कालिकन भवानी मन्दिर को जाने वाली सड़क का पुल टूटा। और सोनारी कनू और  संग्रामपुर गांव का सम्पर्क टूट गया। सड़क मार्ग का यातायात भी बाधित हो गया है।

       इसी सड़क मार्ग पर सुक्खा का पुरवा धनापुर में नाले पर बना पुल भी बीचोंबीच टूटा और 13 जुलाई 2020 से यातायात बाधित हो गया। इस तरह से उदासीन रवैये से निजात पाने के लिए लोग क्या करें। लोगों का यातायात को लेकर काफी परेशानी हो रही है। प्रशासन बेखबर है।

     इतना भारी भरकम बजट खर्च करने के बाद भी लोगों की समस्याओं में इजाफा हो रहा। पुल टूटने से नाराज होकर क्या करें। नेता चुनाव में मिलेंगें। अभी उनकी कोई सुन नहीं रहा है।

  अरूण कुमार, पिन्टू, कालिका प्रसाद, शमशेर, अवधेश, सरिता सरोज, राजकुमार सिंह आदि सांसद और बिधायक की जिम्मेदारी बताते हैं कि लापरवाह अभियन्ताओ की खबर लेते नहीं। सरकारी धन का खुलम खुल्ला लूट करार दे रहे है जिलाधिकारी, कमिश्नर से मामले की जांच करवाने की मांग की है।

अभियन्ताओ का कहना है कि पुल पुराने जमाने के हैं। पहले हालत ठीक थी। अब टूट गया है तो बिभागीय ने बचाव कार्य कर दिए। अब शासन-प्रशासन लिखा पढी करेगा। तभी पुल बनेगा।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।