वाराणसी: सामाजिक दूरी जरूरी, बिन मास्क जीवन अधूरी - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Thursday, 9 July 2020

वाराणसी: सामाजिक दूरी जरूरी, बिन मास्क जीवन अधूरी

कैलाश सिंह विकास

सामाजिक दूरी जरूरी, बिन मास्क जीवन अधूरी


वाराणसी 9जुलाई- वाराणसी में तेजी से बढ़ते जा रहे कोरोना के कहर और प्रकोप को देखते हुए लोगों द्वारा बिना मास्क के बाजार में घूमने और शासन-प्रशासन द्वारा लगातार लोगों को मास्क पहनकर बाहर निकलने की चेतावनी पर दंडात्मक कार्रवाई की घोषणा के बावजूद कुछ नासमझ लोगों द्वारा नकारात्मक रवैया को  देखते हुए सामाजिक संस्था सुबह ए बनारस क्लब के अध्यक्ष मुकेश जायसवाल के नेतृत्व में पूर्वांचल की सबसे बड़ी खाद्य मंडी विशेश्वरगंज में जन जागरूकता के तहत लोगों से माक्स पहनकर घर से बाहर निकलने की अपील के साथ अभियान चलाया गया। उपरोक्त अवसर पर संस्था के अध्यक्ष मुकेश जायसवाल ने कहा कि, कोरोना संकट  के दौर में  जारी दिशा निर्देशों  का पालन कर ही अपने को और अपनों को बचाया जा सकता है।  यह जानते  सभी हैं। लेकिन मानते नहीं इसका ही परिणाम है, की कोरोना के मामले  नित्य प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं। और प्रांतों की तरह पूर्वांचल में भी कोरोना ने अपना कहर दिखाना शुरू कर दिया है। जिसका परिणाम यह है कि वाराणसी जिले में भी रोज कोरोना के मरीजों की संख्या ज्यादा तादाद में मिलने लगा है। जिसका मुख्य कारण है, लोगों में जागरूकता की कमी। कुछ लोग बिना मास्क के बिना सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किए हुए बाजार में सड़कों पर बेधड़क घूमते नजर आ रहे हैं, ऐसे लोगों से संस्था द्वारा अपील किया जाता है, की वे अपने परिवार और जनहित में जब भी घर से बाहर निकले अपने मुंह पर माक्स पहनकर निकले और सोशल डिस्टेंसिंग का कढ़ाई पूर्वक पालन करें। लोगों में  मास्क  का वितरण भी किया गया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से मुकेश जायसवाल, राजन सोनी,अमरेश जायसवाल, अनिल केसरी, डॉ मनोज यादव शामिल थे।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।