गोण्डा : बाढ़ प्रभावित 442 लोगों में फूड पैकेट व राशन किट तथा 400 लोगो को बांटा गया त्रिपाल - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Tuesday, 4 August 2020

गोण्डा : बाढ़ प्रभावित 442 लोगों में फूड पैकेट व राशन किट तथा 400 लोगो को बांटा गया त्रिपाल

राकेश सिंह गोण्डा 

बाढ़ प्रभावित 442 लोगों में फूड पैकेट व राशन किट तथा 400 लोगो को बांटा गया त्रिपाल

गोण्डा । घाघरा का जलस्तर बढ़ने के बाद तहसील करनैलगंज के ग्राम नकहरा अंतर्गत वाढ़ प्रभावित मजरों में राहत सामग्री पहुंचाई जा रही है. 
            सोमवार को तहसील करनैलगंज के  ग्राम नकहरा  के बाढ़ राहत केंद्र गौरा सिंघनापुर में एसडीएम करनैलगंज ज्ञान चन्द्र गुप्ता व आपदा विशेषज्ञ राजेश श्रीवास्तव ने 442 प्रभावितों को फूड पैकेट व राशन किट तथा 400 लोगो को त्रिपाल वितरित किए। 
   जिलाधिकारी डॉ० नितिन बंसल ने बताया कि अब तक 1522  फूड पैकेट वितरित किया  गए है। उन्होंने बताया कि तहसील कर्नालगंज के नौ मजरे प्रभावित हुए हैं जिसमें 2371 लोग व 1183 मवेशी प्रभावित हुए। उन्होंने बताया कि अभी तक जनहानि एवं पशु हानि नहीं हुई है। बाढ़ से 290 हेक्टयर का क्षेत्रफल प्रभावित हुआ है, जिसमें लगभग 40 लाख लागत की फसल क्षति का अनुमान है। प्रशासन द्वारा अब तक प्रभावित 530 लोगो को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। आवागमन के लिए 170 नावें उपयोग में लाई गई हैं।
    जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल ने संभावित बाढ़ के दृष्टिगत किसी भी स्थिति से निपटने के लिए राजस्व टीमों व मेडिकल टीमों को एलर्ट कर दिया है। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि जनपद में इस वर्ष 17 जून से अब तक लगभग 960 मिली लीटर वर्षा हुई है।  उन्होंने बताया कि घाघरा नदी के बढ़ते जल स्तर को देखते हुए राजस्व व मेडिकल टीमों को एलर्ट कर दिया गया है।
     जिलाधिकारी ने बताया कि बाढ़ से निपटने के लिए जिले में 23 बाढ़ चाौकियां सक्रिय हैं तथा 02 राहत वितरण केन्द्र वर्तमान में संचालित हैं। इसके साथ ही 01 प्लाटून पीएसी की फ्लड बटालियन भी तहसील तरबगंज में तैनात है। मेडिकल रिस्पान्स के लिए मेडिकल की 19 टीमें गठित हैं तथा अब तक 995 लोगों का उपचार मेडिकल टीम द्वारा किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि अब तक 27682 लोगों को क्लोेरीन 
की टैबलेट तथा 1334 लोगों को ओरआरएस घोल का पैकेट दिया जा चुका है। पशुओं को रोगों से बचाने हेतु पशुओं का टीकाकरण पशुपालन विभाग द्वारा कराया जा रहा है।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।