मंदिर में शादी करके घर लौट रहे नवदम्पत्ति सड़क हादसे में दूल्हे की मौत - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 10 October 2020

मंदिर में शादी करके घर लौट रहे नवदम्पत्ति सड़क हादसे में दूल्हे की मौत

इश्वर चन्द्र पटेल कुशीनगर

मंदिर में शादी करके घर लौट रहे नवदम्पत्ति सड़क हादसे में दूल्हे की मौत

 कुशीनगर :: रामकोला-कसया  मार्ग पर रामकोला थाना क्षेत्र के अमवा मंदिर से पहले धनौजी के पास मार्ग दुर्घटना में एक टैम्पू  अनियन्त्रित होकर गढ्ढे में पलट गया। हादसे में दूल्हे की दर्दनाक मौत हो गयी। जबकि दुल्हन मामूली रूप से घायल हुई।
मिली जानकारी के अनुसार देवरिया जिले के तरकुलवा थाने के गांव सोनौला रामनगर निवासी धर्मवीर की पुत्री काजल उम्र 20 की शादी कुशीनगर जनपद के तुर्कपट्टी थाना क्षेत्र के धनौजी निवासी कैलाश के पुत्र धर्मेंद्र उम्र 22 से तय हुई। शुक्रवार को लड़की, उसकी माँ,रिश्तेदारों ,बहन आँचल व भाई अमित के साथ कसया तक आयी। वहां से लड़का धर्मेंद्र अपनी माँ विद्यावती व अन्य परिजनों के साथ लड़की वालों के साथ टैम्पो से रामकोला अनुसुइया मन्दिर पहुंचे। वहां शादी से मना करने के बाद दोनों पक्ष धर्मसमधा मन्दिर पहुंचे। जहां दोनो परिवारों ने राजी खुशी से काजल व धर्मेंद्र की शादी करायी। शादी के बाद दिन के करीब 3.30 बजे दोनो पक्ष एक टैम्पो पर सवार होकर कसया के लिए चला। रामकोला थाना क्षेत्र के अमवा मन्दिर के पास चालक अचानक टैम्पो से नियंत्रण खो बैठा और टैम्पो जाकरर गड्ढे में पलट गया। टैम्पो के नीचे दब जाने के कारण धर्मेन्द्र की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। सूचना पर पहुंची एम्बुलेंस से सभी को रामकोला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया  गया। जहां से मृतक धर्मेन्द्र की मां विद्यावती 50 को पैर टूटने के कारण जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। मौके पर पहुंचे रामकोला थाने के एसआई देशराज सरोज ने जांच पड़ताल कर धर्मेन्द्र के परिवार वालों को सूचना दिए और उनके आने का इंतजार कर रहे थे, ताकि पंचनामा कराकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज जा सके।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।