बलरामपुर: धरती के भगवान कहे जाने वाले ने किया जान लेने का प्रयास - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Tuesday, 6 October 2020

बलरामपुर: धरती के भगवान कहे जाने वाले ने किया जान लेने का प्रयास

बलरामपुर से हंसराज शर्मा की रिपोर्ट


धरती के भगवान कहे जाने वाले ने किया जान लेने का प्रयास



सादुल्लाहनगर (बलरामपुर) ग्रामसभा सादुल्लाह नगर मजरा विंकटगंज थाना सादुल्लाह नगर जनपद बलरामपुर निवासिनी रंजना वर्मा पत्नी दिनेश वर्मा ने बताया कि उसके पेट में बच्चा था जब मेरे पेट का बच्चा 9 माह का हो गया और दर्द होने लगा तब  मुझे लेकर मेरे पति दिनेश वर्मा रोशन हॉस्पिटल सादुल्लाह नगर डॉक्टर परवेज (बी यू एम एस) के यहां लाए और डॉक्टर परवेज (बी यू एम एस) ने अपने हाथ से अल्ट्रासाउंड किया और बताया कि बच्चा फंस गया है। ऑपरेशन करना पड़ेगा जिसका खर्चा 35 से ₹40 हजार तक लगेगा क्योंकि लखनऊ से डॉक्टर को बुलाना पड़ेगा और उन्हीं के द्वारा ऑपरेशन होगा जिस पर मैंने कहा कि जिम्मेदारी आपकी होगी तब डॉक्टर साहब ने कहा कि कोई बात नहीं होगी लेकिन दिनांक 15 अप्रैल सन 2019 को जब ऑपरेशन का समय आया तो डॉक्टर परवेज ने अपने बड़े भाई डॉक्टर कारसाज (बी यू एम एस) को बुलाकर मेरा ऑपरेशन करा दिए जो कि मेरे साथ धोखाधड़ी किए और अपने अस्पताल में करीब एक सप्ताह तक रखे हुए थे उसके बाद डिस्चार्ज कर दिए जब मैं अपने घर चली गई कुछ दिनों के बाद मेरे पेट में असहनीय दर्द होने लगा तब मेरे पति मुझे लेकर रोशन हॉस्पिटल में पुनः दिखाने के लिए लाए तब डॉक्टर परवेज बी यू एम एस ने मेरा अल्ट्रासाउंड किया और बताया कि हर्निया उतर रहा है एवं गांठ है फिर से ऑपरेशन करना पड़ेगा तब मेरे पति ने कहा कि मैं गोंडा ले जाकर किसी अच्छे डॉक्टर को दिखा दूं तब डॉक्टर परवेज ने कहा कि ऑपरेशन मैं और मेरे भाई कारसाज ने किया है इसलिए फिर से ऑपरेशन मैं और मेरा भाई डॉक्टर कारसाज ही करेंगे और ऑपरेशन में जो खर्चा लगेगा मैं उसे नहीं लूंगा और दवा करूंगा 
लेकिन जैसे ही मुझे लेकर रोशन हॉस्पिटल के स्टाफ के लोग अंदर ऑपरेशन रूम में ले गए तो मेरे पति से ₹35 हजार जमा करवा लिया गया और मेरा ऑपरेशन कर दिया और बताया कि गांठ को निकाल दिए हैं और ऑपरेशन के दौरान मुझे बिना बताए मेरा बच्चेदानी भी निकाल दिया और एक सप्ताह मुझे अपने हॉस्पिटल में रखे हुए थे उसके बाद मुझे घर भेज दिया गया कुछ समय बाद मेरे पेट में अचानक दर्द हुआ और दर्द बढ़ता ही गया तब मैं अपने घर से धीरे-धीरे चलकर डॉक्टर परवेज के पास आई और बताया कि मेरे पेट में दर्द हो रहा है और पेट में पत्थर की तरह बना हुआ है तब डॉक्टर परवेज ने कहा कि फिर से अल्ट्रासाउंड करना पड़ेगा तथा डॉक्टर परवेज ने अल्ट्रासाउंड किया तब बताया कि तुम खाना ज्यादा खा ली हो और पैदल ज्यादा चली हो और तुम्हारे पेट में पथरी हो गया है इसलिए गैस भर गया है। इसलिए तीसरी बार ऑपरेशन करना पड़ेगा तब मैंने कहा कि बार-बार ऑपरेशन कर के मेरी जान लेना चाहते हो तब डॉक्टर परवेज आक्रोश में आ गए और गाली गलौज देने लगे मुझे अश्लील शब्दों का प्रयोग करते हुए धक्का देकर अपने हॉस्पिटल से बाहर भगा दिया और धमकी दिया कि अगर हमारे हॉस्पिटल में दिखाई  तो ठीक नहीं होगा

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।