छात्राओं से घुलमिल कर महिला आरक्षियों ने दिए सुरक्षा के टिप्स - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Wednesday, 3 March 2021

छात्राओं से घुलमिल कर महिला आरक्षियों ने दिए सुरक्षा के टिप्स

मोहित गुप्ता बस्ती रूधौली

छात्राओं से घुलमिल कर महिला आरक्षियों ने दिए सुरक्षा के टिप्स

रुधौली के पंडित दीनदयाल उपाध्याय इंटर कॉलेज में मिशन शक्ति के तहत जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

● जागरूकता सवालों पर जवाब देने वाली छात्रा हुई सम्मानित 

बस्ती रुधौली।  छात्रा एवं महिलाएं किसी भी सूरत में डरे नहीं, सरकार महिलाओं और बालिकाओं के अपराध को लेकर गंभीर है। आप जब भी खुद को असुरक्षित महसूस करें तो सरकार द्वारा जारी टोल फ्री नंबर 181, 112, 1090, 1098 पर सूचना दें। अपराध रोकने के लिए अपराध का विरोध करना जरूरी है और सही समय से उसकी जानकारी पुलिस दें। उत्पीड़न सहना भी अपराध करने के बराबर के अपराध की श्रेणी में आता है।
       उक्त बातें रुधौली प्रभारी निरीक्षक शिवाकांत मिश्रा ने बुधवार को रुधौली थाना क्षेत्र के गोठवा में स्थित पंडित दीनदयाल उपाध्याय राजकीय मॉडल इंटर कॉलेज में छात्राओं को मिशन शक्ति के तहत आयोजित जागरूकता कार्यक्रम में संबोधित करते हुए कहीं। प्रधानाचार्य सीता गुप्ता ने कहा कि महिलाओं एवं छात्राओं द्वारा आत्मरक्षा में उठाए गए सभी कदम सही है बशर्ते वह कदम अपराध के बराबर की श्रेणी के होने चाहिए। लेकिन इन सब के बारे में अधिक जागरूक होने के लिए सबसे पहले शिक्षित होना बहुत जरूरी है। 
      प्रभारी निरीक्षक के साथ पहुंची महिला आरक्षी मंजू यादव और मीनाक्षी चौरसिया ने छात्राओं के बीच कुल मिलकर उनकी समस्याएं सुनी तथा उसके उपाय बताएं। आयोजित जागरूकता शिविर में विद्यालय के छात्र छात्राओं ने भी बढ़-चढ़कर सवाल पूछे वहीं दूसरी ओर प्रभारी निरीक्षक महिला जागरूकता के संबंध में द्वारा पूछे गए प्रश्नों का सही उत्तर देने वाली 12वीं की छात्रा गजाला अंब्रेला को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।