आखिर कब तक चुप्पी साधे रहेगा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड,कब तक लोगों की जिंदगी में घुलता रहेगा ज़हर - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 27 March 2021

आखिर कब तक चुप्पी साधे रहेगा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड,कब तक लोगों की जिंदगी में घुलता रहेगा ज़हर

ब्यूरो कानपुर देहात:अरविन्द शर्मा

आखिर कब तक चुप्पी साधे रहेगा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड,कब तक लोगों की जिंदगी में घुलता रहेगा ज़हर


कानपुर देहात के जैनपुर इंडस्ट्रियल एरिया में धड़ल्ले से जलाया जा रहा है बैटरी से निकलने वाला वेस्टेज

कानपुर शहर के बाद अब कानपुर देहात का भी नंबर लग चुका है कानपुर शहर में प्रदूषण नियंत्रण की शक्ति के बाद अब कानपुर देहात में शुरू हो गया है काला कारोबार, फैक्ट्री एरिया के किनारे जलाया और बहाया जा रहा है बैटरी का अपशिष्ट,
प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की टीम द्वारा कानपुर नगर में जगह जगह चल रहे बैटरी स्क्रैप धुलाई के काम को बंद करवाया दिया गया है जिसमे कई लोगो के खिलाफ छापेमारी के साथ साथ मुकदमा भी पंजीकृत कराया गया था पनकी साइड नंबर तीन पांडु नदी के किनारे से चार कारोबारियों को गिरफ्तार भी किया गया था जिसके बाद अब इनका कारोबार कानपुर देहात में भी बड़े स्तर पर फल फूल रहा है
प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की टीम कोई कार्यवाही नहीं कर पा रही है कानपुर देहात के औद्योगिक क्षेत्र के रेलवे लाइन के किनारे बैटरी से जनित अपशिष्ट जलता और बहता रहता है इतना ही नहीं यह काला कारोबार फैक्ट्री को बाहर ताला बंद कर अंदर से  किया जाता है ताकि किसी की नजर न पड़े आपको बता दे कि धुलाई के दौरान निकलने वाला केमिकल से बहुत ही भयानक तरह की बीमारियां उत्पन्न होती है जिसके ईशान की जिंदगी आधी ही रह जाती है 
पर्यावरण अभियंता को जानकारी के बाद भी अभी तक नही हो पाई है कार्यवाही,इससे तो साफ तौर पर यही जाहिर होता है की प्रदूषण विभाग की मिलीभगत से ही यह काला कारोबार  औद्योगिक क्षेत्र में फल फूल रहा है धुलाई के बाद निकलने वाले पत्ते को यह लोग रात के अंधेरे में खाली पड़ी जगह पर डालकर उसमे आग लगा देते है आग के दौरान उठने वाला धुआं इतना इतना खतरनाक होता है की इसका अंदाजा लगाया जाना भी मुस्किल है इतना ही नहीं इसकी शिकायत कानपुर देहात जिला अधिकारी से भी की गई इसके बावजूद धड़ल्ले से काम जारी है !

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।