लखनऊ -खेलों को बढ़ावा देने वाले 15 हस्तियों में बस्ती के सत्येंद्र पटेल हुए सम्मानित - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Thursday, 9 August 2018

लखनऊ -खेलों को बढ़ावा देने वाले 15 हस्तियों में बस्ती के सत्येंद्र पटेल हुए सम्मानित


लखनऊ -विश्वपति वर्मा _
 
 ग्रीष्मकालीन प्रांतीय ओलम्पिक 2018 समापन एवं पुरुष्कार वितरण समारोह के मौके पर खेल एवं युवा कल्याणमंत्री व पूर्व टेस्ट क्रिकेटर चेतन चौहान ने अवध प्रांत खेलों को बढ़ावा देने वालों को ‘खेल संवाहक’ पुरस्कार से सम्मानित किया।


 क्रीड़ा भारती अवध प्रांत की तरफ से लखनऊ विश्वविद्यालय के मालवीय सभागार में यह कार्यक्रम आयोजित किया गया इसमें करीब 15 लोगों को खेल संवाहक सम्मान दिया गया सम्मानित होने वालों में  बस्ती से सत्येंद्र पटेल ,ग्रामीण खेलों को बढ़ावा देने वाले बंथरा के नरेंद्र सिंह चौहान, महिला खेलकूद को बढ़ावा देने वाली साहस स्पोर्ट्स अकादमी की चेयरपर्सन डा. सुधा बाजपेई, शांति फाउण्डेशन के जरिए महिला हॉकी समेत कई खेलों को प्रात्साहित करने वाली ललिता प्रदीप, हॉकी खिलाड़ी निशा मिश्रा, शतरंज को प्रोत्साहित करने वाली अविजय ट्रस्ट के एसके तिवारी, खेलों को बढ़ावा देने वाले मीडिया पर्सन आकाशवाणी के अनुपम पाठक, खेल पत्रकार धर्मेंद्र पाण्डेय, अपने खर्च से निशानेबाजी सिखाने वाले मो. शोएब, रीना सिंह समेत  करीब 15 हस्तियों को ‘खेल संवाहक’ सम्मान दिया गया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए खेलमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार खेलों को बढ़ावा देने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है। साथ ही  सरकार खेलों को बढ़ावा देने की दिशा में काम करने वालों की मदद भी करेगी। इस मौके पर क्रीड़ा भारती अवध  प्रांत के अध्यक्ष इंजीनियर अवनीश सिंह ने के कहा कि उनकी संस्था पूरे राज्य में खासकर ग्रामीण इलाकों में खेलों को बढ़ा देने का काम कर रही है।कार्यक्रम की अध्यक्षता लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एसपी सिंह ने किया इस मौके पर क्रीड़ा भारती के कोषाध्यक्ष गोविंद पाण्डेय समेत तमाम लोग मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।