उत्तर प्रदेश के 75 जिलों की 163 नदियों में अटल जी की अस्थियों का होगा विसर्जन - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Sunday, 19 August 2018

उत्तर प्रदेश के 75 जिलों की 163 नदियों में अटल जी की अस्थियों का होगा विसर्जन


मिडिया डेस्क 
 भारत के पूर्व प्रधानमंत्री और राजनीति के पुरुधा भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी को बीते दिन सर्वसम्मान के साथ अंतिम विदाई दे दी गयी. जिसके बाद अब रविवार यानी 19 अगस्त को हरिद्वार में उनकी अस्थियों का विसर्जन होंना है. वहीं कल ही लखनऊ में भी अटल जी की अस्थियाँ लायी जाएंगी. बता दें की सीएम योगी ने अटल जी की अस्थियों को प्रदेश के 75 जिलों में विसर्जित करवाने की भी घोषणा की है. 
सीएम योगी सहित पूरा मंत्री मंडल करेगा स्वागत:
भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी का निधन देश के लिए एक बहुत बड़ी क्षति है. जिसे देश के सर्वोच पदासीन सहित प्रदेश के मुखिया तक ने महसूस किया. बीते दिन दिल्ली के स्मृति स्थल में उन्हें मुखाग्नि देकर अंतिम विदाई दी गयी. वहीं अब रविवार को उनकी अस्थियों को हरिद्वार स्थित हर कि पैड़ी तट पर गंगा नदी में प्रवाहित किया जाएगा.

शाम 5 बजे लखनऊ एयरपोर्ट पहुंचेगी अटल जी की अस्थियाँ:

इसके साथ ही कल शाम 5 बजे अटल जी की अस्थियां लखनऊ के एयरपोर्ट पर पहुंचेंगी। यूपी के कैबिनेट मंत्री आशुतोष टंडन अटल जी की अस्थियों को खुद अपने नेत्रत्व में राजधानी लायेंगे.
इस दौरान प्रदेश के मुखिया सीएम योगी सहित उनका पूरा मन्त्रिमंडल मौजूद रहेंगा. इस के मद्देनजर लखनऊ एयरपोर्ट से लेकर भाजपा मुख्यालय तक अटल जी के चित्र लगाए जाएंगे और उनकी कविताओं की पंक्तियां लिखे बैनर जगह-जगह लगाए जाएंगे।
वहीं कल सीएम योगी हरिद्वार भी रवाना होंगे. दोपहर करीब एक बजे हरिद्वार की हर की पैड़ी पर अटल जी की अस्थियों को प्रवाहित किया जायेगा.
बता दें कि इस दौरान न केवल सीएम योगी बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह समेत भाजपा के कई दिग्गज नेता हरिद्वार पहुंचेंगे.

75 जिलों की 163 नदियों में अटल जी की अस्थियों का होगा विसर्जन:

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने घोषणा की है कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां प्रदेश के 75 जिलों की सभी 163 नदियों में विसर्जित की जाएंगी. सरकार के एक बयान के मुताबिक ऐसा इसलिए किया जाएगा ताकि हर जिले में लोगों को उनकी इस अंतिम यात्रा से जोड़ा जा सके.
गौरतलब है कि यूपी में 75 जिले हैं और कुल 47 नदियां. चूंकि एक नदी कई जिलों से होकर गुजरती है, इसलिए वाजपेयी की अस्थियां गंगा में 25 बार, यमुना में 18 बार, घाघरा में 13 बार, गोमती में 10 बार, रामगंगा में 7 बार, ताप्‍ती में 6 बार, हिंडन में 6 बार और गंडक में 4 बार विसर्जित की जाएंगी.

अटल जी के नाम पर होगा चिकित्सा विश्वविद्यालय:

योगी सरकार ने उनके नाम पर लखनऊ में चिकित्सा विश्वविद्यालय बनाने का फैसला किया है। बटेश्वर में अटल स्मारक बनेगा। जबकि कानपुर डीएवी कॉलेज में अटल के नाम पर सेंटर ऑफ एक्सीलेंस की स्थापना का फैसला लिया गया है। जिसका प्रस्ताव यूपी की अगली कैबिनेट बैठक में रखा जाएगा।

No comments:

Post a Comment