भाजपा युवा पीढ़ी को अंधविश्वास और रूढ़िवादिता के अंधेरे में फंसाए रखना चाहती है - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Monday, 27 August 2018

भाजपा युवा पीढ़ी को अंधविश्वास और रूढ़िवादिता के अंधेरे में फंसाए रखना चाहती है


लखनऊ ब्यूरो -महेंद्र मिश्रा 

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सैकड़ों नौजवानों को पार्टी मुख्यालय, लखनऊ में सम्बोधित करते हुए कहा कि समाजवादी पार्टी की दृष्टि भविष्य पर है। आज चिंता का विषय यह है कि आने वाली  पीढ़ियों को सुखद भविष्य कैसे मिल सकेगा? भाजपा युवा पीढ़ी को अंधविश्वास और रूढ़िवादिता के अंधेरे में फंसाए रखना चाहती है। उसे नौजवानों के भविष्य निर्माण की कतई चिंता नहीं है।


 अखिलेश यादव ने आज यहां समाजवादी युवजन सभा की बैठक में कहा कि इन दिनों लोकतंत्र की परीक्षा ली जा रही है। भाजपा समाजवादी विचाराधारा को बदनाम करने की रणनीति पर काम कर रही है। वह भ्रम, अफवाह और गुमराह करने की साजिश करती है। लोकतांत्रिक संस्थाओं को कमजोर किया जा रहा है।
 

  

 पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि समाजवादी पार्टी को नौजवानों पर भरोसा है। इस पीढ़ी की ऊर्जा, शक्ति और निष्ठा बेजोड़ है जो परिवर्तन की वाहक है। युवा पीढ़ी विचार से ही समाजवादी होती है। युवा जातिवाद और साम्प्रदायिकता के शिकार नहीं हो सकते हैं। भाजपा युवा पीढ़ी का भविष्य बर्बाद कर रही है। नौजवानों को झूठे मुकदमों में फंसाया जा रहा है। विश्वविद्यालयों में छात्रों को दाखिला देने में बंदिशें  लगाई जा रही है। 

       पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा बेरोजगारी के मुद्दे पर मौन है। नोटबंदी से बेरोजगारी में वृद्धि हुई है। जीएसटी से अर्थ व्यवस्था घाटे में गई है। दूसरे देशों के मुकाबले भारत पिछड़ता जा रहा है। किसानों को भाजपा ने धोखा दिया है। गन्ना किसानों को कुछ नहीं मिला है। भाजपा राज में भ्रष्टाचार का बोलबाला है। वर्तमान सम्याओ  के कारण बहन-बेटियों का मान सम्मान खतरे में है। अपराध नियंत्रण के लिए यूपी डायल 100 व्यवस्था को बर्बाद कर दिया गया है। समाजवादी सरकार ने 18 लाख लैपटाॅप बांटे थे।

          अखिलेश यादव ने इस बात पर जोर दिया कि जनगणना के आधार पर अवसर और हक- सम्मान की व्यवस्था होनी चाहिए। सामाजिक न्याय के लिए समाजवादी पार्टी ही संघर्ष करती आई है। बिना गैर बराबरी को मिटाए सामाजिक सद्भाव नहीं हो सकता है।

         समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष से आज तमिलनाडु से आए डी. शशीकुमार धर्मलिंगम ने अपने 80 साथियों के साथ मुलाकात की और समाजवादी पार्टी की ताकत के विस्तार के बारे में चर्चा की। 2019 में लोकसभा चुनाव की तैयारी तमिलनाडु में समाजवादी पार्टी कर रही है। इसके लिए ही  धर्मलिंगम ने  अखिलेश यादव को चेन्नई आने का निमंत्रण दिया।

No comments:

Post a Comment