भाजपा देश में लोकतंत्र का अपहरण कर कारपोरेट व्यवस्था लागू करना चाहती है ,अखिलेश यादव - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Tuesday, 28 August 2018

भाजपा देश में लोकतंत्र का अपहरण कर कारपोरेट व्यवस्था लागू करना चाहती है ,अखिलेश यादव



पूर्ब मुख्यमंत्री  अखिलेश यादव ने आज कहा कि भाजपा देश में लोकतंत्र का अपहरण कर कारपोरेट व्यवस्था लागू करना चाहती है।

 वह ग्रामीण अर्थव्यवस्था बर्बाद करने पर तुली है। भाजपा संकीर्णता को बढ़ावा देकर समाज को बांटने की राजनीति कर रही है। भाजपा की जनविरोधी और सांप्रदायिकता को बढ़ावा देने वाली नीतियों को रोकने की जिम्मेदारी समाजवादियों की है। नौजवानों को इसमें अग्रणी भूमिका निभानी है।


 
क्या कहा अखिलेश यादव ने  

आज यहां लोहिया वाहिनी के प्रदेश भर से आये नौजवान पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जिस पार्टी ने अपने वादे पूरे नहीं किए हों और अन्याय, उत्पीड़न में लगी हो उसको जवाब जनता देगी। समाजवादी पार्टी की ताकत युवा पीढ़ी है। नौजवान जब जनता के साथ खड़े होंगे तो परिवर्तन की लहर चलेगी और भाजपा कहीं की नहीं रहेगी। 

समाजवादी पार्टी डाॅ0 लोहिया की विचारधारा पर चल रही है। भाजपा नफरत की राजनीति करती है जबकि समाजवादी पार्टी सामाजिक सद्भाव को बढ़ावा देती है। भाजपा के लिए समाजवादी पार्टी चुनौती बनकर खड़ी है इसलिए भाजपा समाजवादी पार्टी और इसके नेतृत्व के विरूद्ध कई तरह के षडयंत्र कर रही है। विपक्षी नेताओं को बदनाम किया जा रहा है। 

   भाजपा ने किसानों, नौजवानों की बहुत उपेक्षा की है। भाजपा की नीतियां किसानों के विरूद्ध हैं। पिछले चार वर्षों में 35 लाख किसानों ने खेती के काम से तौबा कर लिया है। खेती में घाटा और कर्ज की परेशानी से वह आत्महत्या करने को मजबूर है। यह दुभाग्यपूर्ण है। गन्ना किसानों को लगातार धोखा दिया जा रहा है। किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य मिलने का इंतजार है। नौजवानों को रोजगार का इंतजार है। भाजपा ने लैपटाॅप नहीं बांटे। समाजवादी सरकार ने जो 18 लाख लैपटाॅप बांटे थे उस पर भाजपा को शिकायत है तो वह उसके लाभार्थियों की सूची जारी क्यों नहीं करती? 

       भाजपा ने किसान, नौजवान सबके साथ धोखा किया है। लोकतंत्र में धोखा देना अथवा गुमराह करना महापाप है। वादा खिलाफी भी भ्रष्टाचार है। भाजपा राज में भ्रष्टाचार खूब फल-फूल रहा है। इसलिए अब देश की जनता बदलाव चाहती है। अब सब चाहते हैं कि नया प्रधानमंत्री बने। उन्होंने मांग की है कि देश में स्वतंत्र एवं पारदर्शिता के साथ निष्पक्ष चुनाव के लिए ईवीएम से नहीं बैलट पेपर से ही होना चाहिए।

नौजवानों का आह्वान किया कि उनके सामने 2019 ई. लक्ष्य है। साइकिल चलाकर भाजपा के झूठ का पर्दाफाश करना है। भाजपा ध्यान बंटाने की कोशिश करती है। इससे सावधान रहना है। उन्होंने कहा कि वे स्वयं प्रत्येक माह साइकिल चलाकर परिवर्तन की ताकतों को गति देंगे।

No comments:

Post a Comment