कानपुर-बाढ़ पीड़ित किसानो ने रोया अपना दुखड़ा - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 8 September 2018

कानपुर-बाढ़ पीड़ित किसानो ने रोया अपना दुखड़ा



जिला संवाददाता  -रवि तहकीकात न्यूज़ कानपुर 

 प्रदेश में आई बाढ़ के बाद कानपुर में भी गंगा के कटरी इलाके पूरी तरह से बाढ़ से ग्रस्त हो गए हैं जिसके चलते ग्रामीणों के हजारों बीघा खेत जलमग्न हो गए वही ग्रामीण अपने घरों को छोड़ गंगा बैराज के सिंहपुर रोड पर टेंट लगाकर जीवन यापन कर रहे हैं.किसानो ने अपना दुखड़ा रोते हुए बताया की हम लोगो ने खेती के लिए कर्ज लिया था लेकिन बाढ़ के बाद अब हमारे सामने समस्या खड़ी हो गई है एक तरफ परिवार को पलने की तो दूसरी तरफ कर्ज वापसी के ऐसे में कोई हमारी सुनने वाला नहीं है।अधिकारी केवल आश्वासन ही दे रहे है।कटरी इलाके के कई गांव ऐसे हैजिनमे  पूरी की पूरी खेती पानी में समा गई है। आप को बता दे की कटरी से तैयार सब्जिया शहर भर की कई मंडियों में जाती है।

गिल्लिपूर्वा निवासी किसान राम बाबू ने बताया कि हमारी अमरूद और लुभिया की खेती पूरी तरह बर्बाद हो गयी है जिससे अब हमारे सामने मुसीबत आ खड़ी है हालांकि प्रशासन द्वारा आज राहत सामग्री हम लोगो के घरों में जरूर पहुंचाई गई है।लेकिन इससे कब तक  पोषण होगा।

बनियापुरवा निवासी रंजीता ने बताया कि हमारी दो बीघा खेती जिसमें भिंडी लगी हुई थी पूरी तरह जलमग्न हो गयी है प्रशासन से हम लोग अनुरोध कर रहे है कि हम लोगो को खराब हुई खेती का मुआवजा दिया। शहर की कई बड़ी मंडिया जैसे बादशाहीनाका सब्जी मंडी , चकरपुर जैसी मंडियों में यही से माल जाता है लेकिन बाढ़ ने हम लोगो को पूरी तरह बर्बाद कर दिया है। राम स्वरूप लक्ष्मनपुरवा निवासी ने बताया हमारी 3 बीघा खेती में तरोई ,पपरबल, कुंदरू पानी मे पूरी तरह डूब चुके है हमने कर्ज लेकर खेती शुरू करी थी जिसके चलते अब हमारे सामने परेशानी खड़ी हो गयी थी कि सामने वाले का कर्ज कैसे पूरा करेंगे।और परिवार का पालन पोषण कैसे करे।

No comments:

Post a Comment