नरेन्द्र सिंह राणा की पुस्तक एक दष्टि का विमोचन हुआ - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 28 September 2018

नरेन्द्र सिंह राणा की पुस्तक एक दष्टि का विमोचन हुआ

लखनऊ -धर्म प्रकाश 

भारतीय जनता पार्टी प्रदेश मुख्यालय में आज पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता भारत के अन्तर्राष्ट्रीय कोच पावर लिफ्टिंग तथा उ0प्र0 के सर्वोच्चय सम्मान यश भारती से सम्मानित नरेन्द्र सिंह राणा की पुस्तक एक दष्टि का विमोचन हुआ।
 
 
 
इस अवसर पर पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व उ0प्र0 सरकार में कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही  ने अपने संबोधन में राणा को बधाई देते हुए कहा कि एक लेखक के रूप में पार्टी कार्यकर्ता के नाते तथा खिलाड़ी होने के कारण उनका जीवन बहुआयामी है। शाही ने कहा कि आगे भी उनका इसी प्रकार से पार्टी तथा समाज को सहयोग मिलता रहेगा। मैंने प्रदेश अध्यक्ष रहते हुए राणा को एक समर्पित व जुझारू कार्य करने वाला साहसी कार्यकर्ता पाया। पार्टी के वरिष्ठ नेता तथा उ0प्र0 सरकार के कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना ने अपने सम्बोधन में राणा के जीवन पर प्रकाश डालते हुए उनकी जमकर तारीफ की। खन्ना ने कहा कि खिलाड़ी के रूप में उन्होंने विदेशों में देश का मान बढ़ाया। पार्टी में लगातार 10 वर्ष तक प्रदेश के मीडिया प्रभारी रहे अब प्रवक्ता है उनका काम इस का प्रमाण है। खन्ना ने कहा कि भारतीय मनीषा कहती है कि ऊचाई पर पहुचना कमाल नहीं होता बल्कि ठहरना कमाल होता है। 
 
 
कार्यक्रम में प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टण्डन तथा समाज कल्याण मंत्री रमापति शास्त्री भी मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन प्रदेश मंत्री अमरपाल मौर्य ने किया तथा स्वागत अध्यक्ष सुरेश तिवारी अध्यक्ष अवध क्षेत्र भाजपा ने नेताओ का स्वागत किया। कार्यक्रम के अंत में अपने नेतृत्व का हृदय से धन्यवाद करते हुए राणा ने कहा कि मेरे जीवन में जो भी अच्छा है वह सब परमात्मा की कृपा, पार्टी का साथ तथा आप सभी के स्नेह व आर्शीवाद का परिणाम है।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।