कानपुर-भारतीय बाजारों में ड्रेगन की चाल हुई सुस्त - तहकीकात न्यूज़

आज की बड़ी ख़बर

Sunday, 4 November 2018

कानपुर-भारतीय बाजारों में ड्रेगन की चाल हुई सुस्त




ब्यूरो कानपुर- रवि गुप्ता 


यूपी की सबसे बड़ी बिजली उपकरण की बाज़ार कहे जाने वाली शहर की मनीराम बगिया में इन दिनों हर तरफ भारतीय इलेक्ट्रिक उत्पादों की धूम है एक समय था जब इस बाजार पर ड्रेगन की जबरदस्त पकड़ थी लेकिन मौजूदा सरकार के प्रयास भारतीयों की दृढ़ इच्छा शक्ति के चलते ड्रेगन को मुंह की खानी पड़ी है और इस दिवाली लोगों के घर भारतीय इलेक्ट्रिक  उत्पादों से रोशन होंगे।

अबकी बार होगी स्वदेसी दीवाली

आपको बता दें कि शहर की इस इलेक्ट्रिक मार्केट में आसपास के जिलों के साथ साथ यूपी के विभिन्न शहरो से लोग इलेक्ट्रिक सामान खरीदने आते है और केवल दिवाली पर ही नही बल्कि बारो मास यह बाजार यूंही गुलजार रहता है। और इस बाजार में झालरों की वेरायटी ,क्वालिटी को लेकर अलग अलग प्रकार के इलेक्ट्रिक उत्पाद देखने को नज़र आते हैं। और रोजाना करोड़ो का कारोबार इस कानपुर की तंग गलियों में बनी मनीराम बगिया से होता है। इस बार दीपावली में भारतीय इलेक्ट्रिक दिए ,केंडल और भारतीय डीप डीप झालर के साथ सुनहरी रोशनी से नहाए भगवान गणेश व मां लक्ष्मी की इलेक्ट्रिक शो पीस ग्राहकों के आकर्षण का केंद्र बनी हुई है एलईडी बाल, ओम, स्वास्तिक एलईडी लाइट लगी हुई ज्यादा पसंद ग्राहकों में की जा रही है। साथ ही इस बार इको फ्रेंडली पटाखा इलेक्ट्रिक भी बाजारों में ग्राहकों की पसंद बना हुआ है जिससे पर्यावरण भी स्वच्छ रहेगा। दूकानदार अरुण टण्डन ने बताया कि इस बार जो भी ग्राहक आ रहे है वह 100 प्रतिशत स्वदेसी की डिमांड कर रहे है और मार्किट में चाइना उत्पादों की मौजूदगी के बाद भी स्वदेसी कुछ ज्यादा ही भा रहा है।

दूकानदार पवन ने बताया कि इस बाजार में इको फ्रेंडली पटाखा झालर लोगों का आकर्षण का केंद्र बनी हुई है वही चाइना उत्पाद यूज़ एंड थ्रू होने की वजह से भारतीय उत्पादों का रिपेयरबल होने की वजह से स्वदेसी की डिमांड ज्यादा हो गयी  है। झालर खरीदने आए ग्राहक मनीष ने बताया की चाइना माल तो हॉ लेकिन हमने स्वदेसी झालर खरीदी है क्योंकि स्वदेसी झालर रिपेयर हो जाती है जबकि चाइना रिपेयर नही होती इसलिए इस बार स्वदेसी पीस ज्यादा खरीद रहे हैं।

No comments:

Post a Comment