कानपुर - दबंग ने गाँव के प्राचीन शिव मंदिर में ताला लगा कर दलितों का प्रवेश किया वर्जित - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Wednesday, 12 December 2018

कानपुर - दबंग ने गाँव के प्राचीन शिव मंदिर में ताला लगा कर दलितों का प्रवेश किया वर्जित

ब्यूरो कानपुर - रवि गुप्ता 

घाटमपुर क्षेत्र मैं एक दबंग ने गाँव के शिव मंदिर में ताला लगा कर दलितों का प्रवेश वर्जित कर  दिया। वहीँ दलितों को शिकायत के बाद भी जिला प्रशासन ने दबंग पर कोई कार्यवाई नहीं की है। लोकसभा 2019 चुनाव में जीत के लिए जहां सभी राजनीतिक दलों की नजर दलित वोट बैंक पर लगी हुई है। हर राजनीतिक दल खुद को दलितों को हितैषी बताकर उन्हें अपने पाले में लेने के प्रयास में जुटे है। वही आज भी ग्रामीण इलाकों में दलितों को कलंक मान कर उनका उत्पीड़न जांरी है।



कानपुर से लगभग 45 किलोमीटर दूर नर्वल तहशील में पड़ने वाले गांव सर्वांगपुर जिसकी आबादी लगभग 600 लोगो की है,यहां पर 70 साल पुराना शिव मंदिर है। जहां सालो से लोग पूजा पाठ करते थे। लेकिन बीते तीन सालों से यहां पर पड़ोस के गाँव के दबंग हीरेन्द्र प्रताप ने अपना अवैध कब्जा कर ग्राम समाज की जमीन पर बना धर्मशाला व मन्दिर के चारो तरफ बाउंड्री खिंचवा कर गेट पर ताला डाल दिया और यहां अपनी मनमानी से एक स्कूल चला रहे है। निजी स्कूल मैं ठंड में बच्चे जमीन पर टाट बिछाकर पढ़ने को मजबूर है। 



यहां के ग्रामीणों ने बुधवार को बताया कि दबंग हीरेन्द्र ने उन्हें दलित और अछूत बताकर प्रवेश पर रोक लगा दी जिसके बाद पीड़ित लोग गेट के बाहर पूजा पाठ करने को मजबूर है। दबंग से न सिर्फ ग्रामीण बल्कि ग्राम प्रधान भी डरता है। यहां मौजूद ग्रामीणों ने ये भी आरोप लगाया कि उन्होंने मामले की शिकायत जिला प्रशासन से की पर विभागों के चक्कर काटते काटते उनकी चप्पल घिसस गयी पर अधिकारियों के कान में जु तक नही रेंगा। ये हालात तब है जब यहां की विधायक कमल रानी स्वंय दलित समाज से आती है। वहीँ गाँव की महिलायें दबंग से भयभीत है।

No comments:

Post a Comment