10वीं सीबीएसई के मैथ में होंगे 2 पेपर - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 11 January 2019

10वीं सीबीएसई के मैथ में होंगे 2 पेपर

सीबीएसई की ओर से जारी एक सर्कुलर में इस बात का खुलासा किया गया है कि अगले साल यानि कि 2020  से सीबीएसई की 10वीं में मैथ के दो पेपर होंगे जिसमे स्टूडेंट्स को यह छूट दी गयी है कि वो अपनी मर्जी से किसी भी एक पेपर को दे सकते हैं. जिस नए पेपर को जोड़ा गया है उसका सिलेबस थोड़ा आसान रखा गया है. जबकि मौजूदा पेपर का नाम मैथमेटिक्स-स्टैंडर्ड रखा गया है और यह उन छात्रों के लिए है जो 11 और 12वीं में भी मैथ को जारी रखना चाहते हैं.
सीबीएसई की इस पहल की मुख्य बातें इस तरह से हैं...

1. एग्जाम में मैथ के पेपर के दो लेवल वाली योजना साल 2020 से 10वीं क्लास के लिए लागू की जाएगी। यह योजना 10वीं क्लास के इंटर्नल असेसमेंट में लागू नहीं होगी। 2. मैथ्स के दो पेपर सिर्फ 10वीं क्लास के लिए होंगे। 9वीं क्लास के छात्रों को यह सुविधा नहीं मिलेगी। 3. पहला पेपर तो वही रहेगा जो अभी है। दूसरा वाला थोड़ा आसान होगा 4. मौजूदा पेपर का नाम मैथमेटिक्स-स्टैंडर्ड होगा और आसान वाले का नाम मैथमेटिक्स-बेसिक होगा। 5. दोनों पेपर का सिलेबस, क्लासरूम में पढ़ाई और इंटर्नल असेसमेंट एक ही रहेगा ताकि छात्र पूरे साल सभी टॉपिक को अच्छी तरह समझें। सिर्फ पेपर के समय उनको मौजूदा और आसान वाले पेपर में से किसी एक को चुनने का विकल्प मिलेगा। 6. मैथमेटिक्स-स्टैंडर्ड उन छात्रों के लिए होगा जो 11वीं और 12वीं में मैथ्स रखना चाहते हैं और मैथ्स का बेसिक लेवल उन छात्रों के लिए होगा जो आगे मैथ्स से पढ़ाई नहीं करना चाहते हैं। 7. एग्जाम के लिए आवेदन करते समय छात्र अपनी मर्जी के मुताबिक बेसिक या स्टैंडर्ड लेवल का चुनाव कर सकते हैं। 8. अगर कोई छात्र बेसिक लेवल में फेल होगा तो उसके बेसिक लेवल का ही कंपार्टमेंट एग्जाम देना होगा और स्टैंडर्ड लेवल में फेल होगा तो स्टैंडर्ड लेवल का ही कंपार्टमेंट एग्जाम देना होगा। 9. अगर कोई छात्र 10वीं में बेसिक का चुनाव करता है और वह उसमें पास हो जाता है, इसके बाद वह चाहता है कि आगे की क्लास में मैथ्स से पढ़ें तो वह कंपार्टमेंट एग्जाम में मैथमेटिक्स-स्टैंडर्ड का पेपर दे सकता है। स्टैंडर्ड लेवल का पेपर क्लियर करने पर आगे की क्लासों में उस छात्र को मैथ्स मिल जाएगा।

No comments:

Post a Comment