भाजपा सरकर गरीबों के कल्याण के लिए समर्पित ,देश ने विकास की रफ्तार को तेजी से पकडा - महेन्द्र नाथ पाण्डेय - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Tuesday, 8 January 2019

भाजपा सरकर गरीबों के कल्याण के लिए समर्पित ,देश ने विकास की रफ्तार को तेजी से पकडा - महेन्द्र नाथ पाण्डेय

चीफ रिपोटर UP चन्द्र मोहन तिवारी

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ. महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने आज लोकसभा में चर्चा के दौरान गरीब सर्वणों को 10 प्रतिशत आरक्षण दिये जाने के फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार के इस फैसले से समाज के दलित, पिछडे़, अगडे, सब मिलकर एक साथ आगे बढेगें और सामाजिक सौहार्द भी बढेगा। उन्होंने कहा केन्द्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में चल रही भाजपा सरकर गरीबों के कल्याण के लिए समर्पित सरकार है। यह निर्णय मील का पत्थर साबित होगा। 




डाॅ. पाण्डेय ने कहा कि मोदी सरकार ने अनुसूचित जाति, जनजाति व पिछडे़वर्ग के आरक्षण में बिना किसी छेडछाड़ को किये हुए गरीब सर्वणों को 10 प्रतिशत आरक्षण देने का प्रावधान किया जिसके लिए उनका अभिनंदन करता हूॅ। उन्होंने कहा कि भारत रत्न स्वर्गीय अटल बिहारी बाजपेयी के नेतृत्व में देश ने विकास की रफ्तार को तेजी से पकडा बाद में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश चैगुनी रफ्तार से आगे बढा। उन्होंने कहा उत्तर प्रदेश में अनेक गरीब सर्वण ऐसे हैं जिनके पास जमीन नहीं, दिहाड़ी न करे तो रोटी नसीब नही होती। इस निर्णय से उन्हें राहत मिलेगी और लाभ भी होगा। स्व. अटली बिहारी बाजपेयी की सरकार ने गरीब सर्वणों की परिस्थितियों को समझते हुए आर्थिक आधार पर सर्वे कराकर आरक्षण देने के लिए आयोग के गठन की दिशा में पहल की थी लेकिन बाद में यूपीए सरकार ने इसे ठंडे बस्ते में डाल दिया। 

डाॅ. पाण्डेय ने कहा कि प्रधानमंत्री के 56 इंच का सीना उनकी जीवट इच्छा शक्ति को प्रर्दशित करता है कि उन्होने बिना किसी को नुकसान पहुंचाये गरीब सर्वणों को 10 प्रतिशत आरक्षण देने की पहल करके सामान्य वर्ग चाहे वह ब्रम्हमण हों, क्षत्रिय, कायस्थ, वैश्य या कोई भी सामान्य वर्ग का हो सबको लाभ मिलेगा। उन्होंने फैसलें का समर्थन व स्वागत करते हुए कहा कि मोदी सरकार गरीबों को समर्पित सरकार है और सबका साथ-सबका विकास की नीति पर काम करते हुए पूरे समर्पण के साथ कार्य कर रही है।

No comments:

Post a Comment