कानपुर -- डॉक्टर पैसों के प्रति न रहे समर्पित बल्कि जन सेना पर रहे समर्पित -योगी आदित्यनाथ - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Wednesday, 27 February 2019

कानपुर -- डॉक्टर पैसों के प्रति न रहे समर्पित बल्कि जन सेना पर रहे समर्पित -योगी आदित्यनाथ

ब्यूरो कानपुर - रवि गुप्ता 

बुधवार को कानपुर के गणेश शंकर विद्यार्थी मेडिकल कालेज में सुपर स्पेशलटी  ब्लाक का शिलान्यास  करने पहुचे यूपी के सीएम योगी आदित्य नाथ  साथ में केंद्रीय पर्यावरण मंत्री डॉक्टर हर्ष वर्धन ,यूपी के स्वस्थ कल्याण मंत्री आशुतोष टंडन , सांसद डॉक्टर मुरली मनोहर जोशी व यूपी सरकार के मंत्री सतीश महाना  भी मौजूद रहे। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कानपुर को 209 बेड़ो का  सुपर स्पेशलिटी ब्लाक की सौगात  दी ।यह ब्लाक प्रधान मंत्री स्वस्थ सुरक्षा योजना के अंतगत वर्ष दो हजार बीस  तक  बनकर तैयार हो जाएगा। जिसमे अत्यधुनिक सुख सुविधाओं के साथ 12 अलग अलग स्वस्थ सम्बंधित जांचे भी  ब्लाक में उपलब्ध रहेगी ।



मुख्यमंत्री ने अपने भाषण में कहा कि इस मैं सबको बधाई देता हूं। कि मुझे प्रसन्नता है कि प्रदेश की स्वस्थ सेवाएं बेहतर हो रही है जब  से देश मे मोदी सरकार बनी हैतब से पूरे देश मे 13 मेडीकल कालेज बने है दो मेडिकल कालेज प्रदेश सरकार बनवा रही है प्रदेश में पूर्व से ही 6 मेडिकल कालेज आधुनिक  सुख  सुविधाओ से युक्त मौजूद है ।यहां पर मरीजो का अत्याधुनिक उपचार किया जा रहा है ।योगी आदित्य नाथ ने कहा कि मेडिकल कालेज कैम्पस में दो सौ 9 बेड का सुपर मेडिकल ब्लाक का निर्माण होने से और भी बेहतर स्वास्थ्य सुविधएं उपलब्ध होगी ।शहरी क्षेत्रों में हमारे पास पर्याप्त डॉक्टर उपलब्ध है लेकिन ग्रामीण क्षेत्रो में आवश्यकता होने जाने के बावजूत कोई भी डॉक्टर न  तो वहां जाना चाहता है और न ही काम करना चाहता है ।अगर ग्रामीन क्षेत्रो में डॉक्टरों की पोस्टिंग होतो है तो वह एक माह डियूटी करने के वाद लम्बी छुट्टी  पर चले जाते है


 पिछले लगभग साढ़े चार वर्षों में देश और  यूपी में स्वस्थ सेवाओ की बेहतर व्यवस्था बड़ी है उन्होंने कहा कि यूपी की पूर्व सरकार ने केंद्र सरकार द्वारा उपलब्ध कराई गई लाइव सपोर्ट एम्बुलेंश को नही ले रही थी लेकिन जब से भाजपा की सरकार आई है हमने तत्काल उन  उपलब्ध कराई गई एम्बुलेंस को मंगाया क्योकि किसी भी गंभीर हालत के मरीज को रास्ते मे ही जीवन दायनी सेवा उपलब्ध कराने में यह एम्बुलेंश सक्षम है हालांकि  यह भी सुनने में आता है कि कही किसी भी अस्पताल में डॉक्टर मरीजो के तीमारदारों के साथ  मारपीट करते है और सरकारी वेतन लेने के साथ ही प्राइवेट पैक्टिस करते है उन्हें भी अपने इस तरह के व्यवहार में बदलाव लाना होगा। अन्यथा प्रदेढ़ सरकार को मजबूरी में दखल देना पडे

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।