उन्नाव - रफ़्तार का कहर..... - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Thursday, 21 February 2019

उन्नाव - रफ़्तार का कहर.....

रिपोर्ट - विशाल सिंह 

 उत्तर प्रदेश के उन्नाव में रफ्तार का कहर थमने का नाम नही ले रहा है आय दिन रफ्तार को लेकर बढ़ती घटनाये लोगो के लिए मौत का सबब बन रही है और लोगो को इसका खामियाजा जान देकर चुकाना पड़ रहा है ऐसा ही कुछ नजारा आगरा लखनऊ एक्सप्रेसवे पर बीती देर रात औरास थानाक्षेत्र के मिर्जापुर अजीगंवा गांव के पास देखने को मिला जब एक पाइप लदा डीसीएम डिवाइडर से टकराकर पलट गया और उसमें लदे पाइप सड़क पर फैल गए इसी बीच पीछे से तेज रफ्तार बस जोकि दिल्ली से चलकर बिहार जा रही बस रास्ते मे पड़े पाइपो के कारण डिसबैलेंस हुई और पलट गई और उसमें बैठी सवारियों में 3 महिला 2 बच्चे और 1 व्यक्ति को मौके पट मौत हो गई और 12 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए घटना की सूचना पर पहुंची ने आनन फानन में घायलों को ट्रामा सेंटर भेज दिया व कुछ लोगो का ट्रीटमेन्ट मौके पर ही करवाकर भेज दिया लेकिन इस हादसे के बाद बची हुई सवारिया जोकि देर रात से वही बैठी हुई है उनको देखने के लिए शासन प्रशासन से कोई भी नही पहुंचा है जिसको लेकर यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ है वही यात्रियों की माने तो हादसे के बाद पुलिस वालों ने उन्हें यहां लाकर बैठा तो दिया है लेकिन उसके बाद से कोई भी यहां झांकने तक नही है आया है सभी लोग रात से भूखे प्यासे बैठे है न उनके पास जाने को किराया है न कोई साधन ऐसे में कैसे पहुंचेगे यात्री अपने घर वही इस पूरे प्रकरण में बांगरमऊ सीओ ने बताया कि घटना रात 12 बजे की है एक डीसीएम जो सड़क पर पलट गया था और उसके पाइप सड़क पर फैल गए थे तभी पीछे से आ रही बस इन पाइपो के कारण डिस बैलेंस हुई और पलट गई जिसमें कुल 6 लोगो की मौत हो गई और 12 लोगो का इलाज ट्रामा सेंटर में चल रहा है और कौन सवारी कहा कि है और एक परिवार के कौन लोग है या अलग अलग ये अभी स्पष्ट नही हो पाया है इसके लिए पूछताछ जारी है


मामला हुआ ये है पुलिस हमे जब घटना हुआ तो सबको बस को सीधा करके समान सबका निकलवाकर के पुलिस ने हमे यहाँ लाकर के खड़ा कर दिया अभी तक हमारी कोई सुनवाई नही हुई है हमारा न कोई प्रशासन आया न कोई पुलिस वाला आया कोई पूछने नही आया कि की आप घर जाना चाह रहे हो या  कहा जाना चाह रहे हो वहां हमारी व्यवस्था करवाइये  यहां पूरी पब्लिक भूखी प्यासे बैठे हुए है न फोन है हमारा फोन बस में गिर गया है वो पता नही चला दूसरा हम समान लेने गए तो कोई कह रहा है फ़ोटो खिंचवाओ,कोई कह रहा है आधार कार्ड दिखाओ कोई कह रहा है अपना नंबर दिखाओ हमारे पास फोन नही है तो हम क्या करे यहां सब भूखे नंगे बैठे है हुए हमारे एक नौजवान बंदे मर गए अब हम यहा पर उनका समान लेकर बैठे हुए है कोई नही है कौन क्या हुआ है किसके घर पहुचाया जाएगा या नही आप लोगो से विनती है कि जो हमे घर तक पहुचा दिया जाए दिल्ली से बिहार जा रहे थे मान के चलिए दरभंगा जिला जाना था हमारे सबकी व्यवस्था चाहिए सर यहा से हम कैसे जाएंगे यहां से हमे कोई सवारी नही मिलता है फिर हम कैसे जाएंगे कैसे पहुंचेंगे भाड़ा किराया सब खत्म है हम कैसे पहुंचेंगे कितनी देर हम बैठे रहेंगे मोबाइल भी बंद हो गया है चार्ज भी नही कर सकते है ये औरस थाना क्षेत्र में एक वोल्वो बस थी जो दिल्ली से लगभग चार बजे चली थी और उसको बिहार मुजफ्फरपुर जाना था उसमे लगभग 55 -60 के बीच सावरिया थी उसका एक जो डीसीएम जो पाइप से लदी थी वो किसी डिवाइडर से जाकर टकराई और उसके पाइप पूरी रोड में फैल गए है पीछे से वोल्वो बस आ रही थी उन्ही पाइप के कारण वोल्वो बस डिसबैलेंस हुई और साइड की रेलिंग से टकराते हुए करीब बीस तीस मीटर आगे हुए पलट गई 271 किलो मीटर जो हमारा लखनऊ से जो एक्सप्रेसवे का छोर है उससे लगभग तीस किलो मीटर तो तत्काल सूचना मिली मरने वालो की संख्या 3 लेडीज है दो छोटे बच्चे है और एक आदमी कुल 6 लोग है इसमे 12 लोगो का ट्रामा सेंटर में इलाज चल रहा है और जिनको छोटी मोटी चोट थी उनको तत्काल वही ट्रीटमेंट करा करके अब इस संबंध में हम लोगो ने जब बस वाले से पूछा तो चूंकि उसमे अलग अलग सावरिया थी तो उसमे कन्फर्म नही हो पाया की कौन किसको पहचानता है अभी उनके नाम और पता क्योकि रात में ही बात हुई थी अभी हमारी बात हुई है इंस्पेक्टर साहब से तो उन्होंने कहा कि साहब अभी बात हुई है बस वाले से वो लिस्ट लेकर आ रहा है उस लिस्ट के मिलान से ही पता चलेगा की मृतकों के नाम क्या है क्योंकि बस मुजफ्फरनगर जा रहे थे तो हो सकता है वही आस पास गांव के ही लोग हो ।

 

No comments:

Post a Comment