वाराणसी: - पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद रमेश यादव की माँ, पत्नी ने किया PM मोदी का धन्यवाद, मां ने कहा ‘और मारो’ - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Tuesday, 26 February 2019

वाराणसी: - पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद रमेश यादव की माँ, पत्नी ने किया PM मोदी का धन्यवाद, मां ने कहा ‘और मारो’

कैलाश सिंह विकास ब्यूरो

 पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद हुए काशी के लाल रमेश यादव के घर 12 दिन बाद उनकी पत्नी और मां के चेहरे पर थोड़ी सी ख़ुशी लौटी है। इसका कारण बनी है भारतीय वायुसेना, जिसके मिराज 2000 बमवर्षक विमान ने भोर में तकरीबन तीन बजे पकिस्तान अधिकृत कश्मीर में घुसकर 1000 किलो बम गिराए और आतंकियों के तीन बड़े ठिकानों को तबाह कर दिया। इस सूचना पर शहीद रमेश के घर उनकी शाहदत के बाद पहली बार ख़ुशी का माहौल है।इस ख़ुशी में जहां पत्नी के चेहरे पर पहली बार मुस्कान आई तो उसने प्रधानमंत्री और भारतीय वायुसेना को धन्यवाद दिया। साथ ही पकिस्तान में बैठे एक -एक आतंकी ख़त्म करने की बात कही। वहीं शहीद की मां ने कहा इस कार्रवाई से तसल्ली मिली है पर प्रधानमंत्री जी से अनुरोध है और बड़ी कार्रवाई करें।


भारतीय नौसेना के दिलेर विमान मिराज ने जिस तरह से आज भोर में पकिस्तान पर कार्रवाई की है। उससे पूरा देश गदगद है, जगह जगह खुशियां मनाई जा रही है। पुलवामा हमले में शहीद होने वाले सीआरपीएफ के हेड कांस्टेबल रमेश यादव के घर तोफापुर। यहां सभी टीवी के सामने बैठे भारत की सैन्य कार्रवाई का समाचार देख रहे थे।पिछले 11 दिनों से आंसू बहा रही शहीद की पत्नी के चहेरे पर हल्की मुस्कान थी तो मां के दिल में बेटे के खोने के दर्द के साथ साथ देश की वायुसेना की कर्रवाई से जोश भी था। हमने शहीद की पत्नी रेनू यादव से बात की तो उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी का धन्यवाद की उन्होंने पकिस्तान को जवाब देना शुरू कर दिया है। पकिस्तान इसी का हकदार है।वहीं शहीद की मां इस हमले से खुश तो हैं पर उन्होंने कहा कि इसके बाद और भी कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए पाकिस्तान के खिलाफ। एक एक आतंकी को चुन चुन के मारो तभी देश की सभी माओं के बेटों की शाहदत का बदला मिलेगा।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।