वाराणसी - ठीकेदार की लापरवाही से दो मजदूरों की मौके पर ही मौत... - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 1 March 2019

वाराणसी - ठीकेदार की लापरवाही से दो मजदूरों की मौके पर ही मौत...



कैलाश सिंह विकास ब्यूरो

 कैंट थाना अंतर्गत काली जी मंदिर पांडे पुर के पास गंगा प्रदूषण एलएनटी द्वारा सीवर सफाई का काम चल रहा है कि आज सुबह तड़के करीब 6:00 बजे सभी मजदूर काम कर रहे थे कि सीवर लाइन के अंदर चार मजदूर और ऊपर कई मजदूर काम कर रहे थे सीवर के अंदर जो मजदूर काम कर रहे थे उसमें राजेश चंदन सुमेश मन्नी थे कि सुरेश व मन्नी ने ऊपर आकर अपने अन्य साथी मजदूरों को बताया कि राजेश और चंदन अंदर पड़ा सीवर लाइन के पाइप में फंस गए हैं और उनकी सांसे नहीं चल रही हैं यह सुनते ही मजदूरों ने जोर जोर से चिल्लाना शुरू किया इतने में   वहाँ काम कर रहे अन्य मजदूरों ने अपने ठेकेदार जिनका नाम मजदूरों ने बताया कि ठेकेदार का नाम उपेंद्र मिश्रा व जाहिद और उसका भाई राशिद पुत्र स्वर्गीय  सगीर अहमद निवासी गिलट बाजार के हैं यह सुनते ही की अंदर दो मजदूर फस गए हैं तीनों ठेकेदार वहां से भाग गए तब तक पुलिस को सूचना मिली सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर एलएनटी के अधिकारियों व कर्मचारियों भी मौके पर पहुंचकर 




सीवर लाइन के अंदर में 2 मजदूर जिनका नाम राजेश पासवान पुत्र रामा ज्योति पासवान निवासी ग्रामबड़कागांव थाना पकड़ीदयाल पूर्वी चंपारण मोतिहारी बिहार व दूसरा मजदूर चंदन निवासी शिवपुर वाराणसी का बताया गया उनकी डेट बॉडी सीवर के अंदर से निकालने का कार्य चालू किया गया लेकिन 40 फिट की गहराई होने के कारण कामयाबी नहीं मिली  तब  एनडीआरएफ की टीम को बुलाया गया सीवर लाइन के अंदर फंसे मजदूरों को  एन डी आर एफ की टीम निकालने का कार्य कर रही है स्थानीय लोगों में चर्चा है कि गंगा प्रदूषण इकाई द्वारा जिस ठेकेदार को ठेका दिया गया है वह लापरवाही से कार्य करा था उसको किसी भी प्रकार की जानकारी नहीं थी लेकिन गंगा प्रदूषण के अधिकारी अपने कमीशन के चक्कर में उस ठेकेदार को ठेका दिया गया वही ऐसी घटना होने पर वहां से सभी ठेकेदार व एलएनटी के लोग फरार हो गए बताते चलें कि आए दिन सीवर लाइन की सफाई में घोर लापरवाही के कारण कई मजदूरों की जान चली  जाती है


 एलएनटी के अधिकारी अपनी कमीशन से बाज नहीं आते और नहीं और ना ही सुरक्षा का मानक उपलब्ध करा पाते हैं पूछताछ में वहां काम कर रहे मजदूर नितेश सुबोध गुड्डू ने बताया कि साहब हम लोग  एल एन टी के अधिकारी और ठेकेदार से बार बार कर रहे थे कि इसमें गैस भी हो सकता है और अंदर लाइट न होने से कुछ दिखाई नहीं दे रहा है लेकिन हम लोगों की बातों को अनसुना करके एलएनटी और  ठेकेदार हम लोगों की बातों को न सुनने को तैयार थे और ठेकेदार ने हम लोगों से काम करने के लिए कहा और इतनी बड़ी हादसा हो गई जिसमें हमारे दो साथी की मौके पर ही मौत हो गई और यह देख तीनों ठेकेदार व  एल एन टी के लोग मौके से फरार हो गए आखिर इतने बड़े सीवर लाइन कार्य को करा रहे गंगा प्रदूषण और  एलएनटी के अधिकारी कैसे इन बेपरवाह जिनको काम की जानकारी भी नहीं है ऐसे ठेकेदारों को ठेका दे देते हैं आखिर देते भी क्यों नहीं क्योंकि इन ठेकेदारों द्वारा इन अधिकारियों को अच्छी खासी मोटी  कमीशन मिल जाती है वहीं स्थानीय लोगों का कहना है कि मैं वाराणसी के जिलाधिकारी से पुरजोर तरीके से मांग करते हैं कि इन एल एन टी और गंगा प्रदूषण इकाई और ठेकेदार के बीच हो रहे  सौदेबाजी की जांच कराकर इनके खिलाफ भी कार्रवाई करें ताकि आगे से काम कर रहे मजदूरों का  जान जोखिम में ना हो सकेलेकिन यह जिला प्रशासन कब इन लोगों पर जांच करेगा यह लोगों में  चर्चा का विषय बना हुआ है ।

No comments:

Post a Comment