डा0 महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने कहा कई दलों के नेता लगातार मा. नरेन्द्र मोदी जी के विरूद्ध अपशब्दों का प्रयोग कर उनका अपमान कर रहे - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 19 April 2019

डा0 महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने कहा कई दलों के नेता लगातार मा. नरेन्द्र मोदी जी के विरूद्ध अपशब्दों का प्रयोग कर उनका अपमान कर रहे

न्यूज़ डेस्क तहकीकात लखनऊ

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डा0 महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने बसपा सुप्रीमो मायावती के द्वारा प्रधानमंत्री मा. नरेन्द्र मोदी जी को लेकर दिये गये बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि मायावती जी आर्थिक विषयों की तो बेहतर जानकार है लेकिन उन्हें सामाजिक विषयों की जानकारी बिल्कुल नहीं है। उन्होंने कहा कि जिस मंच से मायावती जी मा0 नरेन्द्र मोदी जी पर अशोभनीय टिप्पणियां करके उनका अपमान कर रही थी, उसी मंच पर मौजूद मुलायम सिंह यादव को भी भलि-भांति पता है कि मोदी जी कितने बड़े नेता है और पिछड़े वर्ग में जन्मे मोदी जी पिछड़े वर्ग के होते हुए पिछड़ो के साथ साथ सर्वसमाज के सर्वमान्य नेता है। उन्होंने सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर तंज कसते हुए कहा कि आज अखिलेश यादव के कृत्यों का ही परिणाम है कि मैनपुरी जैसी लोकसभा सीट पर जिसे मुलायम का गढ़ कहा जाता था वहां जीतने के लिए मायावती का सहारा लेकर कहा जा रहा है कि एहसान किया मायावती जी ने आकर। डा0 पाण्डेय ने सपा-बसपा के गठबंधन पर हमला बोलते हुए कहा कि भ्रष्टाचार और गुण्डई की पहचान वाले कई दलों के नेता लगातार मा. नरेन्द्र मोदी जी के विरूद्ध अपशब्दों का प्रयोग कर उनका अपमान कर रहे है जिसे देश की जनता कभी भी माफ नहीं करेंगी। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश में दो चरणों के मतदान के बाद सपा-बसपा के नेताओं की समझ में आ चुका है कि 23 मई को चुनाव परिणाम वाले दिन प्रदेश में गठबंधन का खाता नहीं खुलेगा और उनके हिस्से में सिर्फ जीरो होगा।
 
 
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डा0 महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने कहा कि दलितों के नाम पर सत्ता पाकर दौलत की बेटी बन बैठी मायावती ने दलितों के हितो के लिए आजीवन संघर्षरत रहे स्वर्गीय काशी राम द्वारा बनाई गई बहुजन समाज पार्टी को धन उगाही का माध्यम बना लिया है । धर्म और जाति की राजनीति कर मायावती ने गरीब, शोषित, वंचित और दलित वर्ग को सिर्फ वोट बैंक के रुप में इस्तेमाल कर सत्ता हासिल की और सत्ता का उपयोग भ्रष्टाचार कर धन उगाही के लिए किया। मायावती जी भी जानती है कि बसपा का जनाधार खत्म हो चुका है। इसीलिए वे कभी मुस्लिम वोट बैंक को एकजुट होने की अपील करती है तो कभी पिछड़ा हितैषी होने की बात करती है।डा0 पाण्डेय ने कहा कि एक तरफ अखिलेश और मायावती जैसे नेता है जो धर्म, जाति के आधार पर लोगों को बांटकर जीत का सपना देख रहे है। दूसरी तरफ मा. नरेन्द्र मोदी जी है जिन्होंने पिछड़े वर्गों के सर्वांगीण विकास के लिए  पिछड़े वर्ग को सविंधानिक दर्जा दिलाया है और जो भारत का गौरव विश्व में कैसे बढ़े, राष्ट्रीय सुरक्षा, किसान, नौजवान, महिलाओं के उत्थान और सबका साथ-सबका विकास की नीति पर काम करते हुए एक सशक्त भारत के निर्माण की बात करते है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि सपा-बसपा गठबंधन के लोग जितना चाहे उतना अपशब्दों का प्रयोग मा. मोदी जी के खिलाफ कर ले लेकिन मोदी जी के साथ दिल से गठबंधन कर चुकी जनता अपने मत का प्रयोग करके मोदी जी के अपमान का बदला जरूर लेगी।

No comments:

Post a Comment