यूपी में 14 सीटों पर वोटिंग जारी, भाजपा उम्मीदवार मेनका गांधी और गठबंधन प्रत्याशी में बहस - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Tahkikat News: Latest Video.

Sunday, 12 May 2019

यूपी में 14 सीटों पर वोटिंग जारी, भाजपा उम्मीदवार मेनका गांधी और गठबंधन प्रत्याशी में बहस

न्यूज़ डेस्क तहकीकात लखनऊ 

 केंद्रीय मंत्री और सुल्तानपुर से भाजपा उम्मीदवार मेनका गांधी की गठबंधन के उम्मीदवार सोनू सिंह से बहस हो गई। मेनका गांधी ने सोनू के समर्थकों पर वोटरों को धमकाने का आरोप लगाया था।लोकसभा चुनाव के छठे चरण का मतदान थोड़ी देर में शुरू होने वाला है। बता दें कि यूपी की 14 सीटों सहित सात राज्यों की 59 सीटों पर मतदान होगा। इसके साथ ही 543 सदस्यीय लोकसभा की 483 सीटों का चुनाव पूरा हो जाएगा। इस चरण में हरियाणा की सभी 10 तथा दिल्ली की सभी सात सहित बिहार, मध्यप्रदेश व पश्चिम बंगाल की 8-8, झारखंड की 4 तथा उत्तर प्रदेश की 14 सीटों पर वोट डाले जाएंगे।निर्वाचन आयोग के मुताबिक इस चरण में 10.16 करोड़ लोग 1.13 लाख मतदान केंद्रों पर वोटिंग करेंगे। इसमें 5.42 करोड़ पुरुष और 4.74 करोड़ महिला मतदाता हैं। 769 निर्दलीय सहित कुल 979 उम्मीदवार मैदान में हैं। भाजपा ने 54, बसपा ने 49 तथा कांग्रेस ने 46 प्रत्याशी उतारे हैं। इस चरण की 59 में से 34 ‘रेड अलर्ट सीट’ हैं। 
 



जहां तीन या उससे ज्यादा उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं।

इस चरण के 20 फीसदी उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मुकदमे हैं। 54 प्रत्याशी करोड़पति हैं। रविवार को ही पश्चिम बंगाल के दो संसदीय क्षेत्रों में भी दो पोलिंग बूथों पर दोबारा वोटिंग होगी। यहां पांचवें चरण में मतदान हुआ था लेकिन हिंसा के चलते आयोग ने मतदान निरस्त कर दिया।

 अखिलेश सहित चार पूर्व सीएम मैदान में

इस चरण में चार पूर्व सीएम-शीला दीक्षित, दिग्विजय सिंह, भूपिंदर सिंह हुड्डा और अखिलेश यादव मैदान में हैं। केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन, मेनका गांधी, राधामोहन सिंह, कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया की सियासी किस्मत भी इसी चरण में तय होगी। दिल्ली में की भाजपा ने मनोज तिवारी, गौतम गंभीर, हंसराज हंस जैसे सितारों को तो, कांग्रेस ने पूर्व केंद्रीय मंत्री अजय माकन तथा मुक्केबाज विजेंदर सिंह को टिकट दिया है। आप से आतिशी, राघव चड्ढा और दिलीप पांडेय मैदान में हैं। आजमगढ़ में अखिलेश के खिलाफ भाजपा ने भोजपुरी स्टार दिनेशलाल उर्फ निरहुआ को उतारकर मुकाबला रोचक बना दिया है।कांग्रेस के दिग्विजय सिंह के सामने भाजपा से मालेगांव ब्लास्ट मामले की आरोपी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को टिकट मिलने से भोपाल सीट पर दुनियाभर की निगाह है। भाजपा ने ‘हिंदू आतंकवाद’ को मुद्दा बनाकर साध्वी के बहाने ध्रुवीकरण की कोशिश की है तो दिग्विजय ने ‘मिस्टर बंटाधार’ की छवि से निकलने की लड़ाई लड़ी। टिकट मिलने के बाद शहीद हेमंत करकरे पर विवादित बयान देकर घिरी साध्वी को माफी मांगनी पड़ी। वहीं, विवादित बयानों के लिए चर्चित दिग्विजय ने प्रचार के दौरान खुद को ‘सच्चा हिंदू’ दिखाने के लिए वह सब किया, जिसे निजी मानकर वे जाहिर करने में परहेज करते थे। चाहे गाय को चारा खिलाना हो या हजारों साधु-संतों के पूजा करना और भगवा झंडे लेकर रोड-शो करना हो।

59 में 44 भाजपा जीती थी

2014 में भाजपा ने इन 59 में 45 सीटें अकेले जीती थी। उसकी सहयोगी लोजपा को एक सीट मिली थी। जबकि तृणमूल कांग्रेस को 8, कांग्रेस-आइएनएलडी को 2-2 और सपा को एक सीट मिली थी।

19 को आखिरी चरण 59 सीटों पर

आखिरी चरण का मतदान 19 मई को होगा। इसमें वाराणसी, गोरखपुर सहित यूपी की 13 तथा 8 राज्यों की 59 सीटों पर वोट पड़ेंगे। पंजाब की सभी 13, हिमाचल की सभी 4, मप्र और बिहार की 8-8, पश्चिम बंगाल की 9, झारखंड की 3, चंडीगढ़ की एक सीट शामिल है। मतगणना 23 मई को होगी।

No comments:

Post a Comment