टोल मुक्त बस्ती व मच्छरमुक्त बस्ती हेतु ग्यापन कल - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Sunday, 26 May 2019

टोल मुक्त बस्ती व मच्छरमुक्त बस्ती हेतु ग्यापन कल




 न्यूज़ डेस्क तहकीकात लखनऊ

आज क्षेत्र के एस.डी.चिल्ड्रेन एकेडमी सहरायें में बैठक कर लोकसभा के निर्दल उम्मीदवार रहे चन्द्रमणि पाण्डेय सुदामा जी ने कहा कि बिना गांव व समाज के मजबूती के देश मजबूत करने की कल्पना युं ही है जैसे बिना मजबूत नींव के बिल्डिंग की कल्पना करना उन्होने कहा कि आज भी बस्ती में शिक्षा चिकित्सा व रोजगार के क्षेत्र में कोई विकास नहीं हुआ है जहां ग्रामपंचायत स्तर पर दशकों से मच्छरमुक्ती की दवा का छिडकाव न कर उस मद में आने वाले पैसे का बंदरबांट हो रहा है वहीं नियमविरुद्ध जिले में दो दो टोल के बाद भी न तो प्रमुख चौरहों पर अण्डरपास है न मार्गदुर्घटना के शिकार लोगों को प्रतिपूर्ति या अन्य सुविधाएं नही दी जाती एसे में भले ही बस्ती से  हरीश द्विवेद्वी के सांसद रहते हमने वोट न मांगने की की सौगन्ध ली है किन्तु चुनाव दौरान जनता से किये वादों को निभाने व जनहित के मुद्दों पर लडाई जारी रहेगी ऐसे में टोलमुक्त व मच्छरमुक्त बस्ती बनाने हेतु पूर्व में तय रणनीति के तहत कल दिनांक 27मई को उप जिलाधिकारी हर्रैया को मांगपत्र सौंप कर चौकडी टोल को तत्काल समाप्त करने व गांवों में दवा छिडकाव सुनिश्चित करने हेतु मांग किया जायेगा एक सप्ताह में कार्यवाही न होने की दशा में बडा कदम उठाया जायेगा ग्यात हो कि मच्छरमुक्त बस्ती हमारा सपना है तो चुनाव दौरान अबैध तरीके से संचालित टोल कर्मियो के आचरण विरूद्ध पेश आने के चलते टोलमुक्त बस्ती हमारा संकल्प है जिसे हम पूर्ण करके रहेंगें इस अवसर पर सत्यप्रकाश शुक्ल आलोक शुक्ल हिमांशू गौड विवेक पाण्डेय हनुमान बर्मा दीपक यादव उमानाथ द्विवेदी रामकिशोर पटेल संतोष पाठक सुधा पाण्डेय बबिता पाण्डेय निष्ठा सिंह कोमल पाण्डेय सहित दो दर्जन से अधिक समर्थक मौजूद रहे

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।