उत्तर प्रदेश में आये दिन शराब पीकर मौतों की खबरे रुकने का नाम नहीं ले रही .. - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Wednesday, 29 May 2019

उत्तर प्रदेश में आये दिन शराब पीकर मौतों की खबरे रुकने का नाम नहीं ले रही ..

रिपोर्ट  - पुनीत मिश्रा 
 
उत्तर प्रदेश में आये दिन शराब  पीकर मौतों की खबरे आये दिन आती रहती है ।और जब प्रदेश में कोई बड़ी घटना सामने आ जाती है तो आवकारी विभाग अपनी कुम्भकरणी नीद से जाग जाता है लेकिन फर्रुखाबाद जनपद में जो कुछ चल रहा है वो सरकार और सरकारी ब्यबस्था पर सीधा सवाल खड़ा कर रही है की आज जिला प्रशसन बिना शह के यह सब कैसे चल रहा है आवकारी अधिकारी कहा है और पुलिस के कर्मी कहा है हालत फर्रुखाबाद जनपद के कोतवाली सदर इलाके तक़रीबन आधा दर्जन सरकारी ठेकों की लाइव तस्वीरे सब कुछ बया कर रही है हालत यह है सरकारी आदेश के अनुसार सरकारी शराव की दुकाने दिन में १० बजे खुलना चाहिए लेकिन फर्रुखाबाद के सदर इलाके में सरकारी शराव के ठेके 24 घंटे खुले रहते है और बंद दुकानों के पीछे से खुला खेल शराव माफिया खुले आम चलाते है लेकिन इस पर जिले की आवकारी अधिकारियो को नजर नहीं जाती या फिर नजर ले जाने की जरुरत नहीं समझते।या यु कहे नजर न रखने की कीमत अधिकारियो के पास पहुँचती रहती है । वही जिले की सदर इलाके की पुलिस चौकियो के महज 100 मीटर दुरी पर मौजूद सरकारी शराब  के ठेकों पर पुलिस भी आखे बंद किये हुए है




बाराबंकी में हुई मौतों के बाद  जब  चैनल की टीम ने सदर इलाके के सरकारी ठेकों पर पड़ताल की तो हालत बेहद ही चौकाने बाले थे और सभी ठेकों पर सुबह से ही शराब की अवैध बिक्री खुले आम हो रही थी लेकिन इसको देखने वाला कोई नहीं हालात यह है ठेके आगे से तो बंद लेकिन या तो गेट से कटे हुए होल से शराब देने के साथ दीवारों में होल बना कर सरकारी ठेकों पर बिक्री खुले आम चल रही थी सरकारी ठेकों के यह हालात देख जिले की सरकारी ब्यबस्था पर सवाल उठाना तो लाजमी है और जवाव देना भी जिला प्रशसन के लिए जरूरी । वही जब पुरे मामले पर जिले के आवकारी अधिकारी संजय गुप्ता से अवैध शराव पर सवाल किया गया तो बह जिले में अवैध शराब कारोबार न होने का दावा करते हुए अपना पल्ला झाड लिए लेकिन कैमरे में कैद तस्विरो को नकारना आवकारी विभाग के बेहद ही मुश्किल है

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।