अलीगढ़-ढाई साल की एक बच्ची की हत्या के बाद मामला तूल पकड़ता जा रहा है. - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 7 June 2019

अलीगढ़-ढाई साल की एक बच्ची की हत्या के बाद मामला तूल पकड़ता जा रहा है.



तहकीकात न्यूज़ डेस्क लखनऊ 

यू पी के अलीगढ़ जिले में टप्पल थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले बूढ़ा गांव में रहने वाली बच्ची 31 मई को घर से लापता हुई थी. बच्ची के परिवार वालों ने इसी दिन बच्ची की गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखवाई. लेकिन बच्ची की हत्या 31 मई को कर दी गई थी.ढाई साल की एक बच्ची की हत्या के बाद मामला तूल पकड़ता जा रहा है. इस बात की जानकारी लोगों को तब लगी

जब घटना के 5 दिन बीत जाने के बाद एक कूड़े के ढेर के पास से कुछ कुत्ते लाश जैसी चीज को नोंचते देखा. इस जगह से बदबू आ रही थी. लोग जब नजदीक गए तो पता चला यहां बच्ची की लाश पड़ी है. पहले आशंका जताई जा रही थी कि ढाई साल की बच्ची के साथ रेप हुआ है लेकिन बाद में अलीगढ़ के एसएसपी आकाश कुलहरी ने बयान दिया है कि बच्ची की मौत गला दबाने की वजह से हुई है. बच्ची के साथ रेप नहीं हुआ है. इस बात का खुलासा पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के जरिए हुआ है. यह मामला पूरी तरह से आपसी रंजिश का है. इस मामले में 2 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है. मामले की जांच जारी है.

घटनास्थल पर मिली बच्ची की लाश दिल दहलाने वाली थी. बच्ची की आंखें बाहर निकली हुई थीं, और हाथ अलग पड़ा था. पुलिस की जांच में देरी के चलते बच्ची के परिवार वालों ने प्रोटेस्ट भी किया था. मामला फिलहाल शांत नहीं हुआ है और अब सोशल मीडिया पर लोग दोषियों को सजा दिलाने की मांग कर रहे हैं.

पुलिस ने इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. बच्ची के परिजनों ने एक आरोपी की पत्नी और उसके छोटे भाई को भी मामले में आरोपी बनाने की मांग की है. इस पर पुलिस का कहना है कि मामले की जांच जारी है. इस मामले में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

बताया जा रहा है कि बच्ची की हत्या आपसी रंजिश में हुई है. बच्ची के पिता ने मुख्य आरोपी को 40 हजार रुपये उधार दिए थे. आरोपी ने 35 हजार वापस कर दिए थे. बचे हुए 5 हजार रुपये के लिए दोनों के बीच झगड़ा हो गया था. इसके बाद दोनों आरोपियों ने मिलकर बच्चे की हत्या कर दी. पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है. 

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।