कानपुर के व्यापारियों के लिए टैली युग की शुरूआत - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Tuesday, 4 June 2019

कानपुर के व्यापारियों के लिए टैली युग की शुरूआत






ब्यूरो कानपुर रवि गुप्ता
 
 कानपुर के व्यापारियों के लिए कानपुर में टैली एक्सपीरियंस जोन की शुरूआत की गयी है जो टैली साॅल्यूशंसन द्वारा जेड सक्वायर्ड माॅल में रिलायंस डिजिटल स्टोर पर की गयी और इसे टीएजी जोन को अधिक से अधिक कारोबारियों तक पहुंचाने का लक्ष्य लिया गया है। बताया गया कि कारोबारियों को इनकी इंड्रस्टीच के निकट ही अपने बिजनेस को आगे बढाने के स्मबन्ध में शिक्षा दी जायेगी। यह साझोदारी में कई एक्सपीरियंस जोन बनाये जायेगे।इस सम्बन्ध में जानकारी देते हुए सुदीप्ता दत्ता ने कहा कानपुर में पहले टैली एक्सपीरियंस जोन की शुरूआत हो गयी है जो जमीनी स्तर पर उनके बिजनेस के लिए मदद मुहैया करायेगा, जिसेस व्यापारी अपने बिनेस को आगे बढाने पर पूरा फोकस कर सके। वहीं उन्होने कहा इस डिजिटल युग में जब सब कुछ उिजिटाइज हो रहा है। कई कारोबारी अपने बिजनेस का हिसाब किताब रखने, प्राॅडक्टस का स्टाॅक रखने और इन तरीकों केा अमल में लाने का साधन अपनाने की ओर देख रहे है। अब बिनेस के मालिक अपने कारोबार का आॅटोमेमशन करने और बिजनेस को आगे बढाने के साथ विविधि लाभो को भी हासिल कर सकते है। बताया एमएमई कारोबारियों को उनके प्राॅडक्टय क्षेत्र और वैधानिक स्थिति से सम्बन्धित हर तरह के सवाल के जवाब मुहैया करायेगा जो इन कारोबारियों के लिए बहुत काम के होंगे। साथ ही बताया उन्हे यह टेली साॅफ्टवेयर का व्यावहारिक अनुभव मुहैया कराने के लिए परफेक्ट प्लेटफार्म है। इससे आधुनिक आधारभूत ढांचा उच्च कारोबारियों को उच्च दर्जे का भौतिक अनुभव प्रदान करेगा, जिससे बिजनेस को आॅटोमेशन की तरफ ले जाने को बढावा मिलेगा। बताया कानपुर के अलावा लखनऊ में भी कई एक्सपीरिंयस जोन बनाये जोंगे, जिसकी ज्यादा से ज्यादा सूक्ष्म लघु, मध्यम श्रेणी के उधोगों तक पहुंच होगी। 

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।