कानपुर देहात - दोनों एक दूसरे के प्रेम में ऐसे थे पागल, फिर प्रेमी ने किया ऐसा काम कि प्रेमिका की जिंदगी में आ गया भूचाल - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Wednesday, 5 June 2019

कानपुर देहात - दोनों एक दूसरे के प्रेम में ऐसे थे पागल, फिर प्रेमी ने किया ऐसा काम कि प्रेमिका की जिंदगी में आ गया भूचाल



जिला संवादाता अरविन्द शर्मा

प्रेम की रासलीला रचने वाले इस आधुनिक युग के नवयुवकों ने उसके मायने बदल दिए। जिसका परिणाम ये होता है कि वही प्रेम दुश्मनी या एक बड़े अपराध की तरफ रुख अख्तियार कर लेता है। ऐसा ही एक मामला कानपुर देहात के रसूलाबाद क्षेत्र में सामने आया है, जहां युवक ने अपनी भाभी की छोटी बहन से प्रेमलीला तो रच ली, लेकिन जब युवती ने शादी का प्रस्ताव रखा तो वह उसे ठुकराने लगा। अंत मे फिर मामला रसूलाबाद थाने पहुंच गया, लेकिन आरोप है कि वहां भी न्याय नही मिला। फिलहाल न्याय के लिए युवती आस लगाए बैठी है।पूरा मामला जनपद कानपुर देहात के थाना रसूलाबाद क्षेत्र के बखतपुरा का है, जहां युवती अपनी बड़ी बहन के देवर से प्रेम करने लगी। लगभग 1 साल से युवती द्वारा शादी के लिए कहने पर लड़का शादी की बात पर टाल देता रहा। धोखा मिलने की आशंका पर युवती ने जब यह बात अपने परिजनों को बताई तो परिजन अपनी बड़ी बेटी के घर पहुंचे। बताया गया कि संगीता के परिजन कन्नौज के गुरसहायगंज के रहने वाले हैं। इधर लड़के के परिवार वालों ने शादी से इनकार कर दिया।लड़के वालों की बात सुनकर हैरान हुए लड़की वाले जब थाना रसूलाबाद पहुंचे तो वहां भी उनको न्याय नहीं मिला। आरोप है करीब 5 दिन से लड़की थाने के चक्कर लगा रही है, लेकिन इंस्पेक्टर रसूलाबाद ललित कुमार सुनने का नाम ही नहीं ले रहे हैं। लड़की का कहना है कि जब वह लड़के के घर जाते हैं तो वहां से बेइज्जत कर वह लोग भगा देते हैं। प्रेमी की शादी घरवालों ने कहीं और तय कर दी है। इधर लड़की थाने के चक्कर काट रही है। फिलहाल लड़की न्याय की आस लगाए चक्कर काट रही है।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।