राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश के प्रतिनिधि मंडल नेउपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा जी से सचिवालय स्थित सभागार में अपने मांगो के साथ वार्ता की - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 5 July 2019

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश के प्रतिनिधि मंडल नेउपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा जी से सचिवालय स्थित सभागार में अपने मांगो के साथ वार्ता की




 

 
रिपोर्ट  - अभिलाष

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश  के प्रतिनिधि मंडल ने उत्तर प्रदेश सरकार के उपमुख्यमंत्री  डॉ दिनेश शर्मा जी से  सचिवालय स्थित सभागार में  अपने मांगो के साथ वार्ता की ।  उप मुख्यमन्त्री एवं शिक्षा मन्त्री मा० दिनेश शर्मा जी से राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघं का प्रतिनिधि मन्डल मिला तथा   उच्च शिक्षा एवम माध्यमिक शिक्षा पर अपने  प्रतिवेदन देकर चर्चा की। शिक्षा मन्त्री जी ने आश्वश्त किया है कि महा सघं की सभी माँगो पर शीघ्र अति शीघ्र निर्णय ले कर उन्हे क्रियान्वित करायेगें। तदर्थ शिक्षकों के विनियमितीकरण के लिए उपमुख्यमंत्री ने दिए सकारात्मक संकेत। ऐसे तदर्थ शिक्षकों के विनियमितीकरण के लिए पहले तो उन्होंने अधिकारियों को इन शिक्षकों के पदों के अधियाचन को रोकने के निर्देश दिए। विनियमितीकरण के लिए आश्वस्त किया। निःशुल्क चिकित्सा सुविधा पर उन्होंने स्वास्थ्य बीमा कराये जाने के प्रस्ताव की बात कही। वित्तविहीन शिक्षकों की नियमावली शीघ्र जारी होगी। माध्यमिक विद्यालयों में संसाधनों की आपूर्ति के लिए नई योजना बनाकर अनुदान की व्यवस्था करेंगे। सामूहिक बीमा की राशि बढ़ाने व पुनः प्रारम्भ किये जाने के लिए पुनर्विचार के लिये आश्वस्त किया।प्रतिनिधि मंडल में माo ओमपाल सिंह, संगठन मंत्री, रा शै महासंघ उत्तर प्रदेश, श्री महेन्द्र कुमार, उच्च शिक्षा प्रभारी, डॉ निर्मला यादव प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष, डॉ ऋषिदेव, महामंत्री,डॉ दिलीप सरदेसाई, प्रदेश उच्च शिक्षा संयोजक, डॉ लवकुश मिश्रा, प्रान्तीय संयुक्त महामंत्री शैलेन्द्र द्विवेदी एवं  डॉ संदीप बालियान, प्रदेश कार्यालय प्रभारी, उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।