बाराबंकी - खस्ताहाल सफाई व्यवस्था से नगर पंचायत जैदपुर बेनकाब - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 26 July 2019

बाराबंकी - खस्ताहाल सफाई व्यवस्था से नगर पंचायत जैदपुर बेनकाब

ब्यूरो चीफ योगेश तिवारी
जैदपुर के सभी 17 वार्डों की दशा निरंतर बिगडती जा रही है सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने को दर किनार जरा सा सुबह पानी गिरने पर सफाई कर्मचारियों की हाजरी नही चढती उस दिन का वेतन भी गरीब सफाई कर्मचारियों का कटा दिया जाता है कोई हफ्तों से नगर पंचायत के रिक्से खराब पडे है लेकिन बनवाने के लिए नगर पंचायत खामोश बैठी है जब तक कूडा व ठलया उठाने का यंत्र ही नही दुरूस्त होगा तबतक वार्डों मे सफाई होना असम्भव है ऐसे मे सफाई व्यवस्था का किया आलम होगा यह आप लोग बाखूबी जान ही गये होगें।
इसके लिए सभासद ताहिर अंसारी ने सिकायत की सफाई व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। नही तो बहुत ही जल्द धरना प्रदर्शन किया जायेगा जैदपुर कस्बे में सफाई व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। वर्तमान नगर पंचायत की उदासीन कार्यप्रणाली के कारण एक तरफ सैहब आम नागरिक परेशान हैं दूसरी ओर पिछले सात दिन से कूड़ा सही नही उठने के कारण जनता भी बहुत परेशानी में है।

 
अली अकबर कटरा वार्ड के सभासद सफीक अंसारी का कहा कि नालो की सफाई नही हुई है जब की कोई महीने पहले टेन्डर हुआ था बारिश के भी दो माह बीत रहे है नालो की सफाई व्यवस्था आखिर कब होगी बिना सफाई के ही पैसा निकालने के फिराक मे। सफाई कर्मचारियों की बरसात के दिन का और रविवार के दिन का वेतन नही मिलने से यह कस्ट जनता को झेलना पडता है नगर पंचायत मे ईयो नहीं होने से सिकायत नगर पंचायत के प्रदीप बाबू की गयी लेकिन समस्या का समाधान करने के बजाए खामोशी अखतियार कर ली नगर पंचायत के गैर जिम्मेदाराना कार्यप्रणाली के कारण जनता गंदगी में रहने को मजबूर है। सफाई कर्मचारियों का 2 माह से वेतन नही मिलने से काम की गति ओर ठिली हो रही है। ऐसे मे नगर पंचायत जैदपुर की अवाम को कोई बिमारी का संकट न झेलना पडे।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।