वाराणसी - प्लास्टिक के बने तिरंगे का प्रयोग करना अपराध - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 9 August 2019

वाराणसी - प्लास्टिक के बने तिरंगे का प्रयोग करना अपराध


जिला सवाददाता -कैलाश सिंह विकाश 

सामाजिक संस्था सुल्तान क्लब की ओर से एक आवश्यक बैठक रसूलपुरा कार्यालय में संस्था अध्यक्ष डॉ एहतेशामुल हक की अध्यक्षता व सचिव जावेद अख्तर के संचालन में आयोजित हुई।  
इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि भारत का तिरंगा झंडा,राष्ट्र का गौरव है,सभी हिंदुस्तानी 15 अगस्त व 26 जनवरी के दिन शिक्षण संस्थाओं ,कार्यालयों इत्यादि में गर्व के साथ तिरंगा फहराते हैं,हमेशा यह देखने को मिलता है कि ध्वजारोहण के बाद कार्यक्रम स्थलों,सड़कों,कूड़ेदान,नालियों इत्यादि में प्लास्टिक के बने छोटे छोटे झंडे गिरे हुए दिखाई देते हैं,प्लास्टिक के बने तिरंगे झंडे फौरन नष्ट नहीं होने की वजह से कई दिनों तक इन राष्ट्र ध्वजों का अपमान व बेहुरमती दिखती है,इसका अनादर करना दण्डनीय अपराध है। सम्मानित नागरिकों, छात्र छात्राओं से अपील है कि आगामी 15 अगस्त (स्वतन्त्रता दिवस) को प्लास्टिक के बने तिरंगे व थैले का प्रयोग न करें और भविष्य में न करने का अज़्म करें। विशेष रूप से मुस्लिम भाइयों से अपील है कि 12 अगस्त से तीन दिवसीय बक़रीद का पवित्र त्योहार है जिसपर साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें,और दूसरों को भी गन्दगी करने से बचाएं, जिससे किसी इंसान को तकलीफ न हो,कुरआन में कहा गया है कि सफाई और पाकी आधा ईमान है,खुदा साफ सफाई को पसंद फरमाता है।और शासन प्रशासन का भरपूर सहयोग करें। 
 इस अवसर पर डॉ एहतेशामुल हक,अजय वर्मा चाँद,महबूब आलम,जावेद अख्तर,एच हसन नन्हें, मौलाना अब्दुल्ला, मो इकराम,अब्दुर्रहमान, शमीम रियाज़,खलील अहमद खान,अब्दुल वफ़ा अंसारी,हाफिज मुनीर,मुख्तार अहमद इत्यादि थे।  

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।