उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने बुलंदशहर में हुई दो साधुओं की हत्या पर तीखा रोष प्रकट किया है। - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Tuesday, 28 April 2020

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने बुलंदशहर में हुई दो साधुओं की हत्या पर तीखा रोष प्रकट किया है।

लखनऊ ब्यूरो

उत्तर प्रदेश में 15 दिनों में 100 से ज्यादा हत्याएं
- एटा, बुलंदशहर, गोरखपुर, चंदौली, इलाहाबाद में हत्या से दहला सूबा
- यूपी में सीएम योगी के अधीन चल रहा है ‘‘जंगलराज‘‘
- जंगलराज में अपराधियों का हौसला बुलंद, जनता भय के साये में

लखनऊ, 28 अप्रैल।


उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष  अजय कुमार लल्लू  ने बुलंदशहर में हुई दो साधुओं की हत्या पर तीखा रोष प्रकट किया है।

यह कहते हुए कि उत्तर प्रदेश में सीएम योगी के अधीन कानून का नहीं बल्कि अपराधियों का राज चल रहा है, श्री लल्लू ने कहा कि कानून का शवदाह हो चुका है उत्तर प्रदेश में। अपराधियों के हौसले बुलंद हैं जबकि आम जनता भय के साये में जी रही है।

उन्होने कहा कि पिछले पंद्रह दिनों के अंदर उ0प्र0 में करीब 100 से ज्यादा हत्याएं हो चुकी हैं। अभी सूबे की जनता एटा में एक ही परिवार के पांच लोगों की हत्या के खौफ से उबरी भी नहीं थी कि बुलंदशहर में दो साधुओं की निर्मम हत्या का मामला सामने आ गया।

इसी तरह की हत्या, हाल ही में गोरखुपर में भी हुई है जहां खुद योगी जी का मठ है और जहां से योगी आदित्यनाथ सांसद भी रहते आए हैं। श्री लल्लू ने सवाल किया है कि जब योगी खुद अपने गृह जिले को नहीं संभाल पा रहे हैं तो पूरे सूबे को कैसे संभालेंगे ?

  यह पूछते हुए कि चंदौली से लेकर बुलंदशहर तक हुई हत्याओं पर सीएम योगी ने मौन क्यों धारण कर रखा है, श्री लल्लू ने कहा कि बात-बात पर खुद की पीठ थपथपाने वाले, कथित रूप से कड़े प्रशासन करने वाले सीएम की कलई जनता के सामने खुल चुकी हैं।

सीएम योगी से और बीजेपी सरकार से अपराधियों पर लगाम लगाने की मांग करते हुए श्री लल्लू ने यह भी कहा कि पीड़ित परिजनों को उचित आर्थिक मदद दिया जाए।

   अजय कुमार लल्लू ने चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर सूबे में कानून का राज जल्द से जल्द स्थापित नहीं किया जाता तो कांग्रेस पार्टी सड़कों पर उतरने से परहेज नहीं करेगी।

1 comment:

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।