फरुखाबाद मे नैपाली मजदूरों से भरी ट्रक पकडी गई - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Wednesday, 20 May 2020

फरुखाबाद मे नैपाली मजदूरों से भरी ट्रक पकडी गई

पूनीत मिश्रा फरुखाबाद

नेपाली श्रमिकों से भरी ट्रक पकडी गई

फरुुुखाबाद। लॉक डाउन में बंद हुए कारोबार के बाद अपने वतन लौट रहे नेपालियों को पुलिस ने रोंक लिया| डीसीएम में बैठे नेपाली मुम्बई से आ रहे थे|देर रात पकडे गए ट्रक को पुलिस ने लाबारिश अबस्था में रोअद्वेज कर्मियों के हवाले कर पुलिस कर्मी चलता बने जिले में उत्तराखंड के  ट्रक से ५४ नेपाली युवको से भरा ट्रक रास्ता भूल फर्रुखाबाद पहुच गया जिले के पुलिस ने रात्रि चेजिंग के दौरान ट्रक को रोक लिया लेकिन बड़ी संख्या भरे नेपाली देख पुलिस कर्मी ट्रक डी\से दूर भाग गए और ट्रक कको बस स्टैंड पर छोड़ गए फिलहाल बस स्टाप पर नेपाली यिवाको के लिए खाने की ब्यबस्था की गयी लकिन रात्रि म जिले के अधिकारियो ने कोई सुध नहीं, ली आखिरकार सभी कोरेंताइन सेंटर भेज दिया गया है  बही ट्रक में आये नेपाली युवको ने बातया की ट्रक को बह पते ब्यक्ति ३ हजार रुपये में लेकर आये है जिसको को नेपाल बार्डर गौरिफंटा तक जाना था लेकिन पुलिस ने फर्रुखाबाद में ट्रक को पकड़ लिया
 गौरतलब है कि सोमवार देर रात शहर कोतवाली पुलिस नें लाल दरवाजे पर एक उत्तराखंड के नम्बर वाली डीसीएम को रोंका| पुलिस देखकर डीसीएम का चालक मौके से फरार हो गया| जिसके बाद पुलिस ने पड़ताल की तो पता चला कि डीसीएम में कुल 54 महिला और पुरुष भरे थे| सभी मुंबई से नेपाल जा रहे थे|
सूचना मिलने पर रोडवेज कर्मी होमगार्ड को लेकर आ गए  उन्होंने पड़ताल के बाद डीसीएम कब्जे में लेकर कद्रिगेत चाकी प्रभारी को सूचना दी मौके पर कादरी गेट चौकी प्रभारी में मौके पर पहुच गाडी का जबरन चालन कर मौके से चलता बने और सभी नेपालियों को छोड़ चले गए बड़ी संख्या में मौजूद नेपालियों को रोडवेज कर्मियों ने उच्चाधिकारियों से बात कर फिलहाल सभी नेपालियों को अज्ञात कोरेंटाइन सेंटर भेज दिया है बही जिले के अधिकारी अपना सरकारी सी यु जी मोबाइल नॉ  मीडिया कर्मियों का नहीं उठा रहे है


No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।