वाराणसी : कार्ड धारकों को निःशुल्क चावल एवं चना वितरण प्रक्रिया में आंशिक संशोधन - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 22 May 2020

वाराणसी : कार्ड धारकों को निःशुल्क चावल एवं चना वितरण प्रक्रिया में आंशिक संशोधन

कैलाश सिंह विकास

नोवल कोरोना वायरस" (कोविड-19) महामारी के दृष्टिगत "प्रधान मंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना" के अंतर्गत पात्र राशन कार्ड धारकों को निःशुल्क चावल एवं चना वितरण प्रक्रिया में आंशिक संशोधन

कार्डधारक जिनका थंब इंप्रेशन नहीं लग रहा है, उन्हें बिना थंब इंप्रेशन अर्थात प्रॉक्सी के माध्यम से मई माह में वितरण हो रहे निःशुल्क चावल एवं चना का वितरण किया जाएगा-जिलाधिकारी


         वाराणसी । जिलाधिकारी कौशल शर्मा ने बताया कि "नोवल कोरोना वायरस" (कोविड-19) महामारी के दृष्टिगत वर्तमान में जनपद के समस्त सक्रिय राशनकार्ड धारकों को माह मई, 2020 में  शासन द्वारा निर्घारित "प्रधान मंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना" के अन्तर्गत उचित दर विक्रेताओं द्वारा
निःशुल्क 05 किग्रा चावल प्रति यूनिट (अन्त्योदय/ पात्र गृहस्थी कार्डों पर) की दर से तथा निःशुल्क चावल के साथ 01 किग्रा प्रति कार्ड (अन्त्योदय/ पात्र गृहस्थी काडों पर) की दर निःशुल्क चने का भी वितरण किया जा रहा है। उक्त वितरण में खाद्यायुक्त द्वारा आंशिक संशोधन किया गया है कि ऐसे कार्डधारक जिनका थंब इंप्रेशन नहीं लग रहा है, उन्हें बिना थंब इंप्रेशन अर्थात प्रॉक्सी के माध्यम से वितरण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि पात्र कार्ड धारकों को जनपद के 1395 सरकारी उचित मूल्य की दुकानों द्वारा 15 मई से निःशुल्क चावल एवं चना का वितरण किया जा रहा है। जो 24 मई तक किया जाएगा।
         जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद के 1395 उचित दर दुकानों पर नियुक्त 1395 नोडल अधिकारियों के समक्ष उपरोक्त निःशुल्क चावल एवं चने का वितरण कराया जा रहा है। साथ ही घटतौली करने वाले दुकानदारों/कोटेदारों के विरूद्ध विभागीय टोल फी नम्बर 1800-1800-150 एवं जनपद स्तरीय कण्ट्रोल रूम के दूरमाष संख्या- 0542-2221939 अथवा टोल फी नम्बर 1077 पर तत्काल सूचना दे, ताकि दोषी कोटेदारों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही सम्पादित की जा सकें। इसके साथ ही समस्त कोटेदारों को चेतावनी दी जाती है कि किसी भी प्रकार की घटतौली करने अथवा खाद्यान्न वितरण में गडबडी करने पर उनके विरुद्ध कठोर कार्यवाही सम्पादित की जायेगी। उन्होंने समस्त दुकानों पर नामित नोडल अधिकारीगण को कड़े निर्देश दिये हैं कि वे सोशल डिर्टेंसिंग, सेनेटाइजर/साबुन पानी का उपयोग कराते हुए अपने से सम्बन्धित दुकानों पर उपस्थित होकर खाद्यान्न का नियमानुसार वितरण करायेंगे।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।