सीएम आवास व डायल112 हेडऑफिस को बम से उड़ाने की धमकी देने वाले सगे भाई गिरफ्तार - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

Tahkikat News App

आज की बड़ी ख़बर

Sunday, 14 June 2020

सीएम आवास व डायल112 हेडऑफिस को बम से उड़ाने की धमकी देने वाले सगे भाई गिरफ्तार

राकेश सिंह गोंडा

सीएम आवास व डायल112 हेडऑफिस को बम से उड़ाने की धमकी देने वाले सगे भाई गिरफ्तार

दोनो अभियुक्त छपिया थाना क्षेत्र के टीकर गावँ के निवासी हैं

मसकनवा गोण्डा:-उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास सहित लखनऊ में 50 भवनों को बम विस्फोट कर उड़ाने की धमकी देने वाले दो सगे भाइयों को गोण्डा पुलिस ने रविवार को छपिया से गिरफ्तार कर लिया है । पुलिस अधीक्षक राज करन नैयर ने बताया कि राजधानी स्थित डायल 112 मुख्यालय पर एक संदेश प्राप्त हुआ था।जिसमें मुख्यालय के आवास समेत राजधानी के 50 भवनों को विस्फोट कर उड़ाने की धमकी दी गई थी । संदेश प्रेषित करने वाले मोबाइल नम्बर की जानकारी किए जाने पर जिले के छपिया थाना क्षेत्र के टीकर ग्राम का निकला।इस सम्बंध में लखनऊ के पुलिस आयुक्त द्वारा उपलब्ध कराई गई सूचना के आधार पर जिला पुलिस,अपराध शाखा,सर्विलांस सेल , राजधानी की गौतमपल्ली थाने की पुलिस समेत विभिन्न शाखाओं की पुलिस ने संयुक्त रूप से छानबीन करते हुए आज स्वदेश गौड़ उर्फ राजा बाबू तथा मनीष पुत्र शिव कुमार निवासी ग्राम टीकर थाना छपिया जनपद गोण्डा को गिरफ्तार किया । एसपी ने बताया कि पूछताछ के दौरान राजा बाबू ने स्वीकार किया है कि उसने अपने मोबाइल से यह संदेश प्रेषित किया था।टेक्निकल जांच में भी इसकी पुष्टि हुई है। राजा बाबू के भाई शिव कुमार को साक्ष्य मिटाने के आरोपों में गिरफ्तार किया गया है । उसने मोबाइल को तोड़कर साक्ष्यों को मिटाने का प्रयास किया था।एसपी ने बताया कि राजा बाबू शिकायत करने का आदी है । वह लोगों के खिलाफ अनायास शिकायतें किया करता है । उन्होंने कहा कि अब तक की छानबीन के आधार पर पुलिस के जानकारी में आया है कि इस बार आपसी रंजिश के चलते उसने गांव के कुछ लोगों को फंसाने के उद्देश्य से उसने इस प्रकार का धमकी भरा संदेश भेजा था । पुलिस ने उसकी निशानदेही पर मोबाइल फोन बरामद कर लिया है । उल्लेखनीय है कि इस सम्बंध में उपनिरीक्षक अवधेश त्रिपाठी ने राजधानी के गौतमपल्ली थाने में भादवि की धारा 153 ए ( 1 ) , 153 बी ( 1 ) , 505 ( 1 ) , 505 ( 2 ) , 506 तथा 67 आइटी एक्ट के तहत अभियोग पंजीकृत कराया गया था । अग्रिम विवेचना प्रचलित है । गिरफ्तारी टीम में लखनऊ कमिश्नरेट के निरीक्षक / सर्विलांस प्रभारी संजय शुक्ला तथा थानाध्यक्ष छपिया संजय तोमर मय टीम के साथ शामिल रहे।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।