कोरोना के कारण स्वर्णकार क्षत्रिय कमेटी द्वारा आयोजित बाबा कालभैरव जी के शोभायात्रा की 66 वर्ष की तोड़ी परंपरा - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Wednesday, 24 June 2020

कोरोना के कारण स्वर्णकार क्षत्रिय कमेटी द्वारा आयोजित बाबा कालभैरव जी के शोभायात्रा की 66 वर्ष की तोड़ी परंपरा

कैलाश सिंह विकास

कोरोना के कारण स्वर्णकार क्षत्रिय कमेटी द्वारा आयोजित बाबा कालभैरव जी के शोभायात्रा की 66 वर्ष की तोड़ी परंपरा
(सादगी के साथ किया गया परंपरा का निर्वहन)

वाराणसी। सात वार - नौ त्योहार मनाने वाले काशी में भी वैश्विक महामारी कोरोना का ऐसा ग्रहण लगा कि हर त्यौहार और पर्व की सिर्फ रस्म अदायगी की जा रही है।
 इसी क्रम में मंगलवार, तदनुसार आषाढ़ सुदी द्वितीया तिथि को स्वर्णकार क्षत्रिय कमेटी द्वारा सन् 1954 से निकाली जाने वाली बाबा कालभैरव जी के स्वर्ण रजत प्रतिमा की भव्य शोभायात्रा एवं श्रृंगार पूजन पर भी इस वर्ष ग्रहण लग गया और कोरोना महामारी के चलते इस बार कमेटी के लोगों की ओर से सादगी के साथ ही पंपरा का निर्वहन किया गया और रस्म अदायगी की गई।
ज्ञात हो कि स्वर्णकार क्षत्रिय कमेटी द्वारा 1954 में निर्मित बाबा कालभैरव जी के स्वर्ण - रजत प्रतिमा की वर्ष में एक ही बार बनारस के स्वर्णकार बन्धुओं द्वारा गाजे बाजे और विभिन्न झांकियों के साथ बड़े ही धूमधाम से शोभायात्रा निकाली जाती रही है ।
स्वर्णकार क्षत्रिय कमेटी के अध्यक्ष द्वारा पूर्व में ही सोशल मीडिया के द्वारा अपील की गई थी, कि इस बार  बाबा के सभी भक्तजन अपने - अपने घरों में ही बाबा की तस्वीर के समक्ष पूजन अर्चन करेंगे।
जहां बाबा के स्वर्ण - रजत प्रतिमा रखी जाती है ,वह क्षेत्र अभी 2 दिन पूर्व हॉटस्पॉट घोषित हो चुका है। इसलिए वहां पर सुबह मंदिर के पुजारी कैलाश दुबे एवं संजय दुबे द्वारा ही बाबा के प्रतिमा की पूजा की गई और दिन में स्वर्णकार क्षत्रिय कमेटी के अध्यक्ष किशोर कुमार सेठ सहित मात्र 4 पदाधिकारियों ने प्रशासन द्वारा अनुमति मिलने पर बाबा कालभैरव जी के मंदिर में श्रृंगार पूजन किया। इस दौरान मंदिर में आम जनमानस का प्रवेश पर पूरी तरह से प्रतिबंधित रहा।
शाम को भूदेवों द्वारा होने वाले बसंत पूजा कार्यक्रम को इस बार स्थगित कर दिया गया।
मंदिर में दर्शन पूजन में मुख्य रूप से अध्यक्ष किशोर कुमार सेठ, महामंत्री श्याम कुमार सर्राफ , उपाध्यक्ष अनुज गौतम और कोषाध्यक्ष जनार्दन प्रसाद वर्मा शामिल रहे। दर्शन पूजन का संयोजन सलाहकार मंडल सदस्य श्याम सुंदर सिंह,कमल कुमार सिंह एवं राजू वर्मा व महेश सिंह ने किया।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।