कानपुर : गरीबों का राशन पर डाका , भ्रष्ट कोटेदार,योगी के राज में दबंगई पर उतारू - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 26 June 2020

कानपुर : गरीबों का राशन पर डाका , भ्रष्ट कोटेदार,योगी के राज में दबंगई पर उतारू

ब्यूरो कानपुर देहात:अरविन्द शर्मा

गरीबों का राशन पर डाका , भ्रष्ट कोटेदार,योगी के राज में दबंगई पर उतारू 



कानपुर देहात के  सिकन्दरा तहसील क्षेत्र दुरराजपुर ग्राम सभा सार्वजनिक वितरण प्रणाली सस्ते गल्ले की दुकान की राशन कार्ड धारकों से गाली गलौज के संबंध में ग्रामीणों ने भ्रष्ट कोटेदार से तंग आकर खूब जमकर काटा बवाल नहीं हो रही ग्रामीणों की कोई सुनवाई अधिकारी हुए बेलगाम कोटेदार राम कुमार से आक्रोश ग्रामीणों ने आरोप लगाते हुए बताया कि कोटेदार ऐसा सुलूक करता है सरकारी कोटा नहीं बाप की बपौती हो चुकी है

दबंग कोटेदार कहता है जाओ जो करना हो कर लो मेरा कोई कुछ नहीं उखाड़ पाएगा कई महीने से इस कोटेदार ने ग्रामीणों को राशन देने के नाम पर मात्र परेशान वही जब पीड़ित लाभार्थियों से इस भ्रष्ट कोटेदार के खिलाफ ग्रामीणों ने कई बार हमसे शिकायत की मैंने अधिकारियों से भी बात की उन्होंने उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया

मगर कार्रवाई के नाम पर बस झुनझुना पकड़ा दिया लेकिन आज तक समय पर राशन ना बांटना घटतौली सरकारी मूल्य के अनुसार बढ़ोतरी रेट लेना कार्रवाई के नाम पर कोरा कागज हाथ लगा इस प्रकरण के बारे में मीडिया ने जब सप्लाई स्पेक्टर से हुई तो उन्होंने कहा कार्रवाई होगी जब मैंने कहा कि किसके ऊपर होगी कोटेदार कहता है कि स्पेक्टर साहब को भी देना पड़ता है पैसा तो मैं कहां से दू पूरा गल्ला उन्होंने कहा सब झूठा है अब कोटेदार झूठा यह दुरराजपुर सप्लाई इंस्पेक्टर सच बोल रहे हैं कोटेदार राम कुमार कि मनमानी से यहां के ग्रामीणों पूरी तरह त्रस्त हैं आरोप है जब भी ग्रामीण दुकान पर राशन लेने जाते है दबंग कोटेदार अभद्रता से पेश आते हुए गरीबों का डब्बा व झोला तक फेंक देते हैं इससे भी उनका पेट नहीं भरता है तो मारपीट पर भी उतारू हो जाते हैं

आज तक कोटेदार के चेक रजिस्टर को उच्च अधिकारियों द्वारा चैक कराया जाए रात के अंधेरे में गरीब जनता के गल्ले को बेच कर डकार जाता है लेकिन जिले के संबंधित अधिकारियों जान कर अंजान बने हुए रहते हैं इनके कान पर जूं नहीं रेंग रहा शायद अधिकारी बड़ी घटना के इंतजार में है ग्रामीणों ने बताया की कोटेदार के खिलाफ जो भी आवाज उठाता है उसका नाम पात्रता से कटवा दिया जाता है वही ग्रामीणों का आरोप है कि जब से हम ग्रामीण मिल आवाज उठा रहे हैं अब जानिए सप्लाई इंस्पेक्टर क्या कहते हैं इस मामले के बारे में जब राशन बटे तो आप खुद देख दीजिए।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।