दलगत, जातिगत ,भाई भतीजा और वंशवाद की राजनीति खत्म करने के लिए राष्ट्रीय जनमंच समय की मांग:- के पी मालिक - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Sunday, 26 July 2020

दलगत, जातिगत ,भाई भतीजा और वंशवाद की राजनीति खत्म करने के लिए राष्ट्रीय जनमंच समय की मांग:- के पी मालिक

कृपा शंकर चौधरी ब्यूरो गोरखपुर

दलगत, जातिगत ,भाई भतीजा और वंशवाद की राजनीति खत्म करने के लिए राष्ट्रीय जनमंच समय की मांग:- के पी मालिक


राष्ट्रीय जनमंच की एक राष्ट्रीय स्तर की ऑनलाइन बैठक की गई जिसमे बतौर मुख्य अतिथि वरिष्ठ पत्रकार श्री के.पी.मालिक जी उपस्थित थे जो पिछले 28 वर्षो का पत्रकारिता क्षेत्र से जुड़े है और वर्तमान में आप Delhi Journalists Association के Genral Secretry है व Press Association of INDIA के वरिष्ठ सदस्य है I 
आपको बताते चलें कि राष्ट्रीय जनमंच के राष्ट्रीय संरक्षक और समन्वयक संजय मौर्य ने भारतीय राजनीति की कमियों को दूर करने के लिए और समाज के अंतिम आदमी तक सरकार द्वारा प्रदत्त की जा रही सुविधाओं को बेरोकटोक पहुंचाने के लिए राष्ट्रीय जन मंच की स्थापना की ।
यह बैठक राष्ट्रीय जनमंच से जुड़ने वाले नए सहयोगियों के लिए आयोजित की गई थी जो अब से प्रत्येक सप्ताह शनिवार को हुआ करेगी जिसमे संगठन से जुड़ने वाले नवीन सहयोगी साथियों को राष्ट्रीय जनमंच क्या, क्यो और कैसे विषय से अवगत कराया जाएगा। संगठन की विचारधारा से यदि वह सहमत होंगे तो फिर उन्हें संगठन की अग्रिम प्रक्रिया में उचित दायित्व देकर संगठन कार्य मे लगाया जाएगा।
राष्ट्रीय जनमंच की ऑनलाइन , बैठक में कुल 414 सहयोगी देश के 18 राज्यो से उपस्थित थे। आज कि बैठक में 3 राजनीतिक पार्टियों के राष्ट्रीय स्तर के पदाधिकारी, 19 पत्रकार, 43 ग्राम प्रधान, भारत सरकार में कार्यरत कर्मचारी, शिक्षक, अधिवक्ता, व्यापारी व भारतीय सेना के पूर्व अधिकारी उपस्थित थे।
भरत राणा ,उषा यादव ,अतुल तिवारी ,महेंद्र कुमार चतुर्वेदी,किमाया कटोच ,अजय जैसवाल,रवि गुप्ता ( अधिवक्ता एवम पत्रकार   ) आदि उपस्थित रहे और अपने विचार व्यक्त किए ।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।