UP में कोरोना वायरस संक्रमण काबू में नहीं,LUCKNOW में मिले 429 मरीज - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 25 July 2020

UP में कोरोना वायरस संक्रमण काबू में नहीं,LUCKNOW में मिले 429 मरीज



यूपी में कोरोना वायरस संक्रमण काबू में नहीं आ रहा है। बीते तीन दिन से अधिकतम मरीज मिलने का रिकॉर्ड बन रहा है। शनिवार को 2984 कोरोना पॉजिटिव सामने आने के बाद एक दिन में अधिकतम कोरोना मरीज मिलने का नया रिकॉर्ड बन गया है। 

प्रदेश में शुक्रवार को 2712 और गुरुवार को 2529 मरीज मिले थे। राजधानी लखनऊ में भी शनिवार को 429 मरीज मिले, जो एक दिन में अब तक की सबसे अधिक संख्या है।

स्वास्थ्य विभाग से जारी रिपोर्ट के अनुसार प्रदेश में कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 22452 है। जबकि 39903 मरीजों को डिस्चार्ज किया जा चुका है। कुल 1387 मरीजों की अब तक मौत हो चुकी है। 

शनिवार को लखनऊ में 429, नोएडा में 85, गाजियाबाद में 101, कानपुर नगर में 171, मेरठ में 49, वाराणसी में 164, झांसी में 47, आगरा में 18, प्रयागराज में 82, गोरखपुर में 93, जौनपुर में 61, बरेली में 36, बलिया में 174, मुरादाबाद में 49 और बुलंदशहर में 10 नए मरीज मिले।

वहीं अलीगढ़ में 42, हापुड़ में 11, बाराबंकी में 59, संभल में 41, हरदोई में 37, सहारनपुर में 26, देवरिया में 16, अयोध्या में 42, मथुरा में 43, गाजीपुर में 47, संतकबीरनगर में 53, चंदौली में 37, बस्ती में 46, मुजफ्फरनगर में 23, रामपुर में 07, फिरोजाबाद में 19, बिजनौर में 02 और मैनपुरी में 43 नए मरीज सामने आए।

साथ ही उन्नाव में 22, आजमगढ़ में 74, इटावा में 22, शाहजहांपुर में 31, बागपत में 09, सिद्धार्थनगर में 17, कन्नौज में 41, सुल्तानपुर में 21, कुशीनगर में 20, सोनभद्र में 33, मऊ में 18, फर्रुखाबाद में 19, गोंडा में 28, पीलीभीत में 41, अमेठी में 12, शामली में 09, मिर्जापुर में 15 और अमरोहा में 04 मरीज मिले।

फतेहपुर में 09, कासगंज में 14, बदायूं में 23, लखीमपुर खीरी में 29, कौशांबी में 07, बहराइच में 04, औरैया में 41, जालौन में 06, एटा में 05, हाथरस में 07, बांदा में 21, प्रतापगढ़ में 08, ललितपुर में 36, महोबा में 25, सीतापुर में 13, हमीरपुर में 10, बलरामपुर में 12, अंबेडकरनगर में 08, कानपुर देहात में 03 और चित्रकूट में 15 मरीज मिले हैं। 




No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।